Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Jul 2016 · 1 min read

ममता

ममता ममता होत है, नर पशु खग में एक ।
खग के बच्चे कह रहे, मातु हमारी नेक ।
मातु हमारी नेक, रोज दाना है लाती ।
अपने पंख पसार, मधुर लोरी भी गाती ।
वह मुख से मुख जोड़, हमें सिखलाती समता ।
जीवन के हर राह, काम आती है ममता ।।
-रमेश चौहान

312 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अनुभव के आधार पर, पहले थी पहचान
अनुभव के आधार पर, पहले थी पहचान
Dr Archana Gupta
एकादशी
एकादशी
Shashi kala vyas
सीखने की, ललक है, अगर आपमें,
सीखने की, ललक है, अगर आपमें,
निरंजन कुमार तिलक 'अंकुर'
💐अज्ञात के प्रति-133💐
💐अज्ञात के प्रति-133💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मौन तपधारी तपाधिन सा लगता है।
मौन तपधारी तपाधिन सा लगता है।
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
अकेले-अकेले
अकेले-अकेले
Rashmi Sanjay
राम प्रकाश सर्राफ पुरस्कार आदि कार्यक्रम ( 26 दिसंबर 2006 से
राम प्रकाश सर्राफ पुरस्कार आदि कार्यक्रम ( 26 दिसंबर 2006 से
Ravi Prakash
दिल के रिश्ते
दिल के रिश्ते
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
माना की देशकाल, परिस्थितियाँ बदलेंगी,
माना की देशकाल, परिस्थितियाँ बदलेंगी,
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
वक़्त होता
वक़्त होता
Dr fauzia Naseem shad
किस्मत की टुकड़ियाँ रुकीं थीं जिस रस्ते पर
किस्मत की टुकड़ियाँ रुकीं थीं जिस रस्ते पर
सिद्धार्थ गोरखपुरी
हाथ पताका, अंबर छू लूँ।
हाथ पताका, अंबर छू लूँ।
संजय कुमार संजू
तुम मुझे भुला ना पाओगे
तुम मुझे भुला ना पाओगे
Ram Krishan Rastogi
शिष्टाचार
शिष्टाचार
लक्ष्मी सिंह
वो मेरी कौन थी ?
वो मेरी कौन थी ?
सुशील कुमार सिंह "प्रभात"
"सुप्रभात"
Yogendra Chaturwedi
"बरसात"
Dr. Kishan tandon kranti
संकट..
संकट..
Sushmita Singh
3) “प्यार भरा ख़त”
3) “प्यार भरा ख़त”
Sapna Arora
2327.पूर्णिका
2327.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
किसी के प्रति
किसी के प्रति "डाह"
*Author प्रणय प्रभात*
बादलों के घर
बादलों के घर
Ranjana Verma
पूजा
पूजा
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
सीरिया रानी
सीरिया रानी
Dr. Mulla Adam Ali
Writing Challenge- मुस्कान (Smile)
Writing Challenge- मुस्कान (Smile)
Sahityapedia
असर-ए-इश्क़ कुछ यूँ है सनम,
असर-ए-इश्क़ कुछ यूँ है सनम,
Amber Srivastava
धमकी तुमने दे डाली
धमकी तुमने दे डाली
Shravan singh
"ऐनक मित्र"
Dr Meenu Poonia
बेटा पढ़ाओ कुसंस्कारों से बचाओ
बेटा पढ़ाओ कुसंस्कारों से बचाओ
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
समय और स्वास्थ्य के असली महत्त्व को हम तब समझते हैं जब उसका
समय और स्वास्थ्य के असली महत्त्व को हम तब समझते हैं जब उसका
Paras Nath Jha
Loading...