Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
11 Nov 2022 · 1 min read

जस का तस / (नवगीत)

।। जस का तस ।।
———————-

आप चले गए
गांँव छोड़कर
मझले कक्का,
गांँव अभी तक
जस का तस है ।

वही पुराने
किस्सा-गोई,
वही ताश औ’ चौपर,
वही बेर
बेरी के मीठे
वही नीम की कोंपर

रोज़ उखड़ते,
कटते जंगल
औ’ खेतों की
मिट्टी का भी
सूखा रस है ।

वही पुराने
नद्दी,नरवा
और सूखते डबरा,
गली-गली में
फिरते नाटे
करिया, भूरा, झबरा

रोज़ पहट से
आती भैंसें
भूखी-प्यासीं
गायों की
सूखी नस-नस है ।

वही पुरानी
ऊंँच-नीच
की तूंँ-तूंँ, मैं-मैं,
पंचायत होती
मुंह देखी लगी
रोज़ की चैं-चैं

रोज़ सबेरे
सागर जाती
वही पुरानी
चले खटारा,
बूढ़ी बस है ।
०००

– ईश्वर दयाल गोस्वामी
छिरारी (रहली), जिला-सागर, मध्यप्रदेश
मोबाइल – 8463884927

Language: Hindi
Tag: गीत
12 Likes · 22 Comments · 413 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
कहीं फूलों के किस्से हैं कहीं काँटों के किस्से हैं
कहीं फूलों के किस्से हैं कहीं काँटों के किस्से हैं
Mahendra Narayan
युवा मन❤️‍🔥🤵
युवा मन❤️‍🔥🤵
डॉ० रोहित कौशिक
युवा हृदय सम्राट : स्वामी विवेकानंद
युवा हृदय सम्राट : स्वामी विवेकानंद
Dr. Pradeep Kumar Sharma
देखता हूँ बार बार घड़ी की तरफ
देखता हूँ बार बार घड़ी की तरफ
gurudeenverma198
शासन अपनी दुर्बलताएँ सदा छिपाता।
शासन अपनी दुर्बलताएँ सदा छिपाता।
महेश चन्द्र त्रिपाठी
A heart-broken Soul.
A heart-broken Soul.
Manisha Manjari
फितरत को पहचान कर भी
फितरत को पहचान कर भी
Seema gupta,Alwar
सन्तानों  ने  दर्द   के , लगा   दिए    पैबंद ।
सन्तानों ने दर्द के , लगा दिए पैबंद ।
sushil sarna
मसीहा उतर आया है मीनारों पर
मसीहा उतर आया है मीनारों पर
Maroof aalam
ऐसा बदला है मुकद्दर ए कर्बला की ज़मी तेरा
ऐसा बदला है मुकद्दर ए कर्बला की ज़मी तेरा
shabina. Naaz
नशा
नशा
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
खुशी पाने का जरिया दौलत हो नहीं सकता
खुशी पाने का जरिया दौलत हो नहीं सकता
नूरफातिमा खातून नूरी
ख़्याल
ख़्याल
Dr. Seema Varma
अनंतनाग में शहीद हुए
अनंतनाग में शहीद हुए
Harminder Kaur
क़ानून का जनाज़ा तो बेटा
क़ानून का जनाज़ा तो बेटा
*Author प्रणय प्रभात*
मन को भाये इमली. खट्टा मीठा डकार आये
मन को भाये इमली. खट्टा मीठा डकार आये
Ranjeet kumar patre
हालातों से हारकर दर्द को लब्ज़ो की जुबां दी हैं मैंने।
हालातों से हारकर दर्द को लब्ज़ो की जुबां दी हैं मैंने।
अजहर अली (An Explorer of Life)
जरासन्ध के पुत्रों ने
जरासन्ध के पुत्रों ने
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
वाक़िफ न हो सके हम
वाक़िफ न हो सके हम
Dr fauzia Naseem shad
एक व्यथा
एक व्यथा
Shweta Soni
हेेे जो मेरे पास
हेेे जो मेरे पास
Swami Ganganiya
काला न्याय
काला न्याय
Anil chobisa
*छ्त्तीसगढ़ी गीत*
*छ्त्तीसगढ़ी गीत*
Dr.Khedu Bharti
चंद्रशेखर आज़ाद जी की पुण्यतिथि पर भावभीनी श्रद्धांजलि
चंद्रशेखर आज़ाद जी की पुण्यतिथि पर भावभीनी श्रद्धांजलि
Dr Archana Gupta
*चुप रहने की आदत है*
*चुप रहने की आदत है*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
आज फिर उनकी याद आई है,
आज फिर उनकी याद आई है,
Yogini kajol Pathak
"ऐसा वक्त आएगा"
Dr. Kishan tandon kranti
*भारत जिंदाबाद (गीत)*
*भारत जिंदाबाद (गीत)*
Ravi Prakash
हे राम तुम्हारे आने से बन रही अयोध्या राजधानी।
हे राम तुम्हारे आने से बन रही अयोध्या राजधानी।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
Ek abodh balak
Ek abodh balak
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Loading...