Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Apr 2017 · 1 min read

भूले नहीं है

भूले नहीं है, तुमसे ही हमको, कितने जख्म मिले..२
दिल की सदा से, दिल को मिले थे, दिल को सितम मिले,
रहती है दिल में, तेरी ही यादे, दिल को भरम मिले..२

पहला सा मंजर, पहली सी आँखे, आंखो में गम मिले..२
तुमसे ही खोया, तुमसे ही रोया, तुम से सनम मिले,
कहती है आँखे, तेरी ही बात, बातों में तुम मिले..२

भूले नहीं है, तुमसे ही हमको, कितने जख्म मिले..२

दिन की दुपहरी, रातों के पहरी, सब ही खतम मिले..२
धोके में रखा, मोके पे आये, कितने मरहम मिले.
दुनिया है धोखा, धोखा है मौका, कितनो को हम मिले..२

भूले नहीं है, तुमसे ही हमको, कितने जख्म मिले..२

Language: Hindi
Tag: गीत
375 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
एक एक ख्वाहिशें आँख से
एक एक ख्वाहिशें आँख से
Namrata Sona
Beginning of the end
Beginning of the end
Bidyadhar Mantry
Micro poem ...
Micro poem ...
sushil sarna
सोच की अय्याशीया
सोच की अय्याशीया
Sandeep Pande
3128.*पूर्णिका*
3128.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
शुभ धाम हूॅं।
शुभ धाम हूॅं।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
खिलाड़ी
खिलाड़ी
महेश कुमार (हरियाणवी)
बस जाओ मेरे मन में
बस जाओ मेरे मन में
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
#संशोधित_बाल_कविता
#संशोधित_बाल_कविता
*Author प्रणय प्रभात*
ज़िंदगी के तजुर्बे खा गए बचपन मेरा,
ज़िंदगी के तजुर्बे खा गए बचपन मेरा,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
मुस्कराहटों के पीछे
मुस्कराहटों के पीछे
Surinder blackpen
‘’ हमनें जो सरताज चुने है ,
‘’ हमनें जो सरताज चुने है ,
Vivek Mishra
है नसीब अपना अपना-अपना
है नसीब अपना अपना-अपना
VINOD CHAUHAN
मुझे भी आकाश में उड़ने को मिले पर
मुझे भी आकाश में उड़ने को मिले पर
Charu Mitra
नारा पंजाबियत का, बादल का अंदाज़
नारा पंजाबियत का, बादल का अंदाज़
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
* खूबसूरत इस धरा को *
* खूबसूरत इस धरा को *
surenderpal vaidya
अभिव्यक्ति
अभिव्यक्ति
Punam Pande
यदि आप नंगे है ,
यदि आप नंगे है ,
शेखर सिंह
राम है अमोघ शक्ति
राम है अमोघ शक्ति
Kaushal Kumar Pandey आस
अनुभव
अनुभव
Dr. Pradeep Kumar Sharma
जब भी आया,बे- मौसम आया
जब भी आया,बे- मौसम आया
मनोज कुमार
*घर आँगन सूना - सूना सा*
*घर आँगन सूना - सूना सा*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
अष्टम कन्या पूजन करें,
अष्टम कन्या पूजन करें,
Neelam Sharma
प्रकृति में एक अदृश्य शक्ति कार्य कर रही है जो है तुम्हारी स
प्रकृति में एक अदृश्य शक्ति कार्य कर रही है जो है तुम्हारी स
Rj Anand Prajapati
Ajj purani sadak se mulakat hui,
Ajj purani sadak se mulakat hui,
Sakshi Tripathi
"कीमत"
Dr. Kishan tandon kranti
कल?
कल?
Neeraj Agarwal
*फेसबुक पर स्वर्गीय श्री शिव अवतार रस्तोगी सरस जी से संपर्क*
*फेसबुक पर स्वर्गीय श्री शिव अवतार रस्तोगी सरस जी से संपर्क*
Ravi Prakash
मोहब्बत की राहों मे चलना सिखाये कोई।
मोहब्बत की राहों मे चलना सिखाये कोई।
Rajendra Kushwaha
*मेरे दिल में आ जाना*
*मेरे दिल में आ जाना*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
Loading...