Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Jun 2023 · 1 min read

भीड़ ने भीड़ से पूछा कि यह भीड़ क्यों लगी है? तो भीड़ ने भीड

भीड़ ने भीड़ से पूछा कि यह भीड़ क्यों लगी है? तो भीड़ ने भीड़ को जवाब दिया कि यह भीड़ इसलिए लगी है, क्योंकि आप पूछ रहे हैं कि भीड़ क्यों लगी है?

@जय लगन कुमार हैप्पी
बेतिया, बिहार।

217 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
दिल की जमीं से पलकों तक, गम ना यूँ ही आया होगा।
दिल की जमीं से पलकों तक, गम ना यूँ ही आया होगा।
डॉ.सीमा अग्रवाल
कहाँ जाऊँ....?
कहाँ जाऊँ....?
Kanchan Khanna
कतौता
कतौता
डॉ० रोहित कौशिक
आँगन की दीवारों से ( समीक्षा )
आँगन की दीवारों से ( समीक्षा )
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
स्वयं की खोज कैसे करें
स्वयं की खोज कैसे करें
Yogi Yogendra Sharma : Motivational Speaker
Gairo ko sawarne me khuch aise
Gairo ko sawarne me khuch aise
Sakshi Tripathi
मुख्तलिफ होते हैं ज़माने में किरदार सभी।
मुख्तलिफ होते हैं ज़माने में किरदार सभी।
Phool gufran
तेरी खुशी
तेरी खुशी
Dr fauzia Naseem shad
मेरे हमसफ़र ...
मेरे हमसफ़र ...
हिमांशु Kulshrestha
रूपगर्विता
रूपगर्विता
Dr. Kishan tandon kranti
2634.पूर्णिका
2634.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
मतलबी इंसान हैं
मतलबी इंसान हैं
विक्रम कुमार
बदलाव
बदलाव
Shyam Sundar Subramanian
💐प्रेम कौतुक-272💐
💐प्रेम कौतुक-272💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
हार का पहना हार
हार का पहना हार
Sandeep Pande
कलियों  से बनते फूल हैँ
कलियों से बनते फूल हैँ
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
वक़्त
वक़्त
विजय कुमार अग्रवाल
ख़ुदा ने बख़्शी हैं वो ख़ूबियाँ के
ख़ुदा ने बख़्शी हैं वो ख़ूबियाँ के
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
वक्त कब लगता है
वक्त कब लगता है
Surinder blackpen
#सवाल-
#सवाल-
*Author प्रणय प्रभात*
अबके तीजा पोरा
अबके तीजा पोरा
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
11) “कोरोना एक सबक़”
11) “कोरोना एक सबक़”
Sapna Arora
बाल कविता: चूहा
बाल कविता: चूहा
Rajesh Kumar Arjun
" महखना "
Pushpraj Anant
इश्क की गलियों में
इश्क की गलियों में
Dr. Man Mohan Krishna
अय मुसाफिर
अय मुसाफिर
Satish Srijan
कजरी लोक गीत
कजरी लोक गीत
लक्ष्मी सिंह
*भारतीय क्रिकेटरों का जोश*
*भारतीय क्रिकेटरों का जोश*
Harminder Kaur
"भाभी की चूड़ियाँ"
Ekta chitrangini
Loading...