Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Nov 2023 · 1 min read

भगवान

देख संसार की हालत, बदल गये भगवान।
साधु, मुला, पादरी का, नही रहा ईमान।।

धर्म – अधर्म के कर्मो को, देख रहा भगवान।
मन्दिर मज्जिद के नाम से, लड़ता रहे इंसान।।

कन्या पूजन करते रहे, नही मिले भगवान।
कोख में बेटी मार रहे, अधर्मी बने महान।।

मन्दिर मज्जिद फिरते रहे, यहाँ नही भगवान।
जरूरत मन्दो कि सेवामे, मिल जाते भगवान।।

लीलाधर चौबिसा (अनिल)
चित्तौड़गढ़ (राज.) 9829246588

Language: Hindi
2 Likes · 1 Comment · 155 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
#तेवरी
#तेवरी
*Author प्रणय प्रभात*
🥀✍अज्ञानी की 🥀
🥀✍अज्ञानी की 🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
शोहरत
शोहरत
Neeraj Agarwal
गद्दार है वह जिसके दिल में
गद्दार है वह जिसके दिल में
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
मौत पर लिखे अशआर
मौत पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
नव वर्ष (गीत)
नव वर्ष (गीत)
Ravi Prakash
डर के आगे जीत।
डर के आगे जीत।
Anil Mishra Prahari
जनरेशन गैप / पीढ़ी अंतराल
जनरेशन गैप / पीढ़ी अंतराल
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
यारो हम तो आज भी
यारो हम तो आज भी
Sunil Maheshwari
हर किसी पर नहीं ज़ाहिर होते
हर किसी पर नहीं ज़ाहिर होते
Shweta Soni
दीप जलते रहें - दीपक नीलपदम्
दीप जलते रहें - दीपक नीलपदम्
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
करवाचौथ
करवाचौथ
Surinder blackpen
नैतिक मूल्यों को बचाए अब कौन
नैतिक मूल्यों को बचाए अब कौन
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
जिस समाज में आप पैदा हुए उस समाज ने आपको कितनी स्वंत्रता दी
जिस समाज में आप पैदा हुए उस समाज ने आपको कितनी स्वंत्रता दी
Utkarsh Dubey “Kokil”
पहले एक बात कही जाती थी
पहले एक बात कही जाती थी
DrLakshman Jha Parimal
आजादी विचारों से होनी चाहिये
आजादी विचारों से होनी चाहिये
Radhakishan R. Mundhra
नेता पलटू राम
नेता पलटू राम
Jatashankar Prajapati
I Have No Desire To Be Found At Any Cost
I Have No Desire To Be Found At Any Cost
Manisha Manjari
Remembering that winter Night
Remembering that winter Night
Bidyadhar Mantry
#संवाद (#नेपाली_लघुकथा)
#संवाद (#नेपाली_लघुकथा)
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
बेटी दिवस पर
बेटी दिवस पर
डॉ.सीमा अग्रवाल
बरसात
बरसात
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
- फुर्सत -
- फुर्सत -
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
2553.पूर्णिका
2553.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
नज़्म - झरोखे से आवाज
नज़्म - झरोखे से आवाज
रोहताश वर्मा 'मुसाफिर'
नज़र का फ्लू
नज़र का फ्लू
आकाश महेशपुरी
चुनाव फिर आने वाला है।
चुनाव फिर आने वाला है।
नेताम आर सी
★बादल★
★बादल★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
'ऐन-ए-हयात से बस एक ही बात मैंने सीखी है साकी,
'ऐन-ए-हयात से बस एक ही बात मैंने सीखी है साकी,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
कविता - छत्रछाया
कविता - छत्रछाया
Vibha Jain
Loading...