Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Sep 2023 · 1 min read

*भगत सिंह हूँ फैन सदा तेरी शराफत का*

भगत सिंह हूँ फैन सदा तेरी शराफत का
*********************************

भगत सिंह हूँ फैन सदा तेरी शराफत का,
कैसे करूँ बयान शुक्रिया तेरी शहादत का।

आजादी की कीमत को तुम ने था जाना,
फिरंगियों की एक भी बात को था ना माना,
जन गण भी आज ऋणी तेरी इबाबत का।
भगत सिंह हूँ फैन सदा तेरी शराफत का।

चढ़ती जवानी में दे दी वतन पर क़ुरबानी,
फांसी के फंदा झूला दुनिया सारी दीवानी,
मीठी बोली मे घोला घोल लियाक़त का।
भगत सिंह हूँ फैन सदा तेरी शराफत का।

देश की खातिर छोड़ दी मधुर प्रेम कहानी,
भारत को मिली बदले ये आजादी निशानी,
कोई भी नही मोल अनमोल बगावत का।
भगत सिंह हूँ फैन सदा तेरी शराफत का।

मनसीरत है गाता तेरा रंग दे बंसती चोला,
लाल लहू में रंग गया हरफ़नमौला ढोला,
मुंह तोड़ जवाब दिया सफ़ेद क़यामत का।
भगत सिंह हूँ फैन सदा तेरी शराफत का।

भगत सिंह हूँ फैन सदा तेरी शराफत का।
कैसे करूँ बयान शुक्रिया तेरी शहादत का।
*********************************
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
खेड़ी राओ वाली (कैथल(

205 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
ज़िंदगी हम भी
ज़िंदगी हम भी
Dr fauzia Naseem shad
होली की आयी बहार।
होली की आयी बहार।
Anil Mishra Prahari
इतनी खुबसूरत नही होती मोहब्बत जितनी शायरो ने बना रखी है,
इतनी खुबसूरत नही होती मोहब्बत जितनी शायरो ने बना रखी है,
पूर्वार्थ
नेता बनि के आवे मच्छर
नेता बनि के आवे मच्छर
आकाश महेशपुरी
अर्ज है
अर्ज है
Basant Bhagawan Roy
घबराना हिम्मत को दबाना है।
घबराना हिम्मत को दबाना है।
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
होली
होली
Dr. Kishan Karigar
23/106.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/106.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
एक डरा हुआ शिक्षक एक रीढ़विहीन विद्यार्थी तैयार करता है, जो
एक डरा हुआ शिक्षक एक रीढ़विहीन विद्यार्थी तैयार करता है, जो
Ranjeet kumar patre
*अज्ञानी की कलम*
*अज्ञानी की कलम*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
दोहा मुक्तक
दोहा मुक्तक
sushil sarna
तेरा मेरा वो मिलन अब है कहानी की तरह।
तेरा मेरा वो मिलन अब है कहानी की तरह।
सत्य कुमार प्रेमी
~~~~~~~~~~~~~~
~~~~~~~~~~~~~~
Hanuman Ramawat
*साँसों ने तड़फना कब छोड़ा*
*साँसों ने तड़फना कब छोड़ा*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
#लघुकविता-
#लघुकविता-
*Author प्रणय प्रभात*
बुश का बुर्का
बुश का बुर्का
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
वट सावित्री अमावस्या
वट सावित्री अमावस्या
नवीन जोशी 'नवल'
इस सियासत का ज्ञान कैसा है,
इस सियासत का ज्ञान कैसा है,
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
*संस्कारों की दात्री*
*संस्कारों की दात्री*
Poonam Matia
वो आया इस तरह से मेरे हिज़ार में।
वो आया इस तरह से मेरे हिज़ार में।
Phool gufran
"बात हीरो की"
Dr. Kishan tandon kranti
जिसकी भी आप तलाश मे हैं, वह आपके अन्दर ही है।
जिसकी भी आप तलाश मे हैं, वह आपके अन्दर ही है।
Yogi Yogendra Sharma : Motivational Speaker
*मतलब इस संसार का, समझो एक सराय (कुंडलिया)*
*मतलब इस संसार का, समझो एक सराय (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
मैं तो महज नीर हूँ
मैं तो महज नीर हूँ
VINOD CHAUHAN
शिव स्तुति
शिव स्तुति
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
सागर की ओर
सागर की ओर
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
नवगीत
नवगीत
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
फिरकापरस्ती
फिरकापरस्ती
Shekhar Chandra Mitra
Have faith in your doubt
Have faith in your doubt
AJAY AMITABH SUMAN
"एक सुबह मेघालय की"
अमित मिश्र
Loading...