Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
31 Jan 2017 · 1 min read

बेटी

#बेटी
बेटी है तो ही कल है..
वह जीवन का हर पल है,

वही संस्कार है, वही धर्म है,
वह जीवन का हर सृजन है..

वही आशा है, वही भरोषा है..
वह हर मुश्किलों का हल है..!

©वीरेन्द्र कृष्णा

Language: Hindi
275 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
हम तुम्हारे साथ हैं
हम तुम्हारे साथ हैं
विक्रम कुमार
हमारे ख्याब
हमारे ख्याब
Aisha Mohan
Price less मोहब्बत 💔
Price less मोहब्बत 💔
Rohit yadav
*शुभ रात्रि हो सबकी*
*शुभ रात्रि हो सबकी*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
।। आरती श्री सत्यनारायण जी की।।
।। आरती श्री सत्यनारायण जी की।।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
लोग बंदर
लोग बंदर
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
"प्रेम कर तू"
Dr. Kishan tandon kranti
हुनर से गद्दारी
हुनर से गद्दारी
भरत कुमार सोलंकी
कोई नयनों का शिकार उसके
कोई नयनों का शिकार उसके
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
#शेर
#शेर
*प्रणय प्रभात*
कोशिश करना आगे बढ़ना
कोशिश करना आगे बढ़ना
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
!! सुविचार !!
!! सुविचार !!
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
ख्याल
ख्याल
अखिलेश 'अखिल'
वक्त
वक्त
Shyam Sundar Subramanian
सुनो स्त्री,
सुनो स्त्री,
Dheerja Sharma
दिल तो पत्थर सा है मेरी जां का
दिल तो पत्थर सा है मेरी जां का
Monika Arora
******** रुख्सार से यूँ न खेला करे ***********
******** रुख्सार से यूँ न खेला करे ***********
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
बढ़ती तपीस
बढ़ती तपीस
शेखर सिंह
* पत्ते झड़ते जा रहे *
* पत्ते झड़ते जा रहे *
surenderpal vaidya
अच्छे थे जब हम तन्हा थे, तब ये गम तो नहीं थे
अच्छे थे जब हम तन्हा थे, तब ये गम तो नहीं थे
gurudeenverma198
"वो कलाकार"
Dr Meenu Poonia
एक युवक की हत्या से फ़्रांस क्रांति में उलझ गया ,
एक युवक की हत्या से फ़्रांस क्रांति में उलझ गया ,
DrLakshman Jha Parimal
23/47.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/47.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
जितना खुश होते है
जितना खुश होते है
Vishal babu (vishu)
#drarunkumarshastri
#drarunkumarshastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
श्री सुंदरलाल सिंघानिया ने सुनाया नवाब कल्बे अली खान के आध्यात्मिक व्यक्तित्व क
श्री सुंदरलाल सिंघानिया ने सुनाया नवाब कल्बे अली खान के आध्यात्मिक व्यक्तित्व क
Ravi Prakash
मुस्कुराना चाहता हूं।
मुस्कुराना चाहता हूं।
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
*** मेरे सायकल की सवार....! ***
*** मेरे सायकल की सवार....! ***
VEDANTA PATEL
यूँ भी होता है,अगर दिल में ख़लिश आ जाए,,
यूँ भी होता है,अगर दिल में ख़लिश आ जाए,,
Shweta Soni
कविता (आओ तुम )
कविता (आओ तुम )
Sangeeta Beniwal
Loading...