बुढ़ापे के जवान जज्बात

ऐ दोस्त! उम्र मेरी साठ साल पार हो गयी पर दिल मेरा जवां रहा,
आँखों पर चश्मा जरूर चढ़ा पर हाल ऐ दिल आँखों से बयां रहा।

वक़्त के साथ झुर्रियाँ पड़ी चेहरे पर मगर मुस्कुराहट कातिल रही,
सब बदल गया पर अंदाज वो ही रहा जिससे रौशन महफ़िल रही।

आशिक मिजाजी रग रग में दौड़ती है पर दिल उसी पर फ़िदा रहा।
यूँ तो हजारों चेहरे रहे आँखों में पर उसका चेहरा सबसे जुदा रहा।

जब जब जिक्र हुआ उसके नाम का, मेरे दिल की धड़कनें बढ़ गई,
देख उसके नाम की मुस्कान मेरे लबों पर ज़माने की बोहैं चढ़ गई।

सुलक्षणा मत कुरेदो बुढ़ापे की राख को दिल के शोले दहकते मिलेंगे,
सुनकर मेरा किस्सा ऐ मोहब्बत कुछ मुरझायेगें चेहरे कुछ खिलेंगे।

©® डॉ सुलक्षणा अहलावत

2 Comments · 148 Views
You may also like:
*स्मृति डॉ. उर्मिलेश*
Ravi Prakash
दिल की आरजू.....
Dr. Alpa H.
*!* कच्ची बुनियाद *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
छलकाओं न नैना
Dr. Alpa H.
मेरे पिता
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
उत्साह एक प्रेरक है
Buddha Prakash
हमारे जीवन में "पिता" का साया
इंजी. लोकेश शर्मा (लेखक)
अथर्व को जन्म दिन की शुभकामनाएं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
इन नजरों के वार से बचना है।
Taj Mohammad
सूरज से मनुहार (ग्रीष्म-गीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
ग़ज़ल
Nityanand Vajpayee
पिता
Ram Krishan Rastogi
अब कहां कोई।
Taj Mohammad
"ज़िंदगी अगर किताब होती"
पंकज कुमार "कर्ण"
"राम-नाम का तेज"
Prabhudayal Raniwal
*सोमनाथ मंदिर 【गीत】*
Ravi Prakash
मेरा पेड़
उमेश बैरवा
स्याह रात ने पंख फैलाए, घनघोर अँधेरा काफी है।
Manisha Manjari
नर्सिंग दिवस पर नमन
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
हे विधाता शरण तेरी
Saraswati Bajpai
हायकु
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
💐प्रेम की राह पर-34💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
बद्दुआ बन गए है।
Taj Mohammad
💐💐प्रेम की राह पर-10💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
पानी
Vikas Sharma'Shivaaya'
आदमी कितना नादान है
Ram Krishan Rastogi
अद्भभुत है स्व की यात्रा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
!¡! बेखबर इंसान !¡!
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
* अदृश्य ऊर्जा *
Dr. Alpa H.
आज की पत्रकारिता
Anamika Singh
Loading...