Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
4 Jul 2016 · 1 min read

बादल

बादल कोई मेरे शहर मे भी तो बरस जाए ।
प्यासे है खेत , जोर-शोर से तो गरज जाए ।।

माना कि तुम उमड़-घुमड़ कर आते-जाते हो ।
ताके रस्ता इन निगाहों पे भी तो तरस खाए ।।

सुमन कुमार आहूजा अनाड़ी

Language: Hindi
567 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"खैरात"
Dr. Kishan tandon kranti
3088.*पूर्णिका*
3088.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
इल्म़
इल्म़
Shyam Sundar Subramanian
बिहार के मूर्द्धन्य द्विज लेखकों के विभाजित साहित्य सरोकार
बिहार के मूर्द्धन्य द्विज लेखकों के विभाजित साहित्य सरोकार
Dr MusafiR BaithA
गुमनाम ज़िन्दगी
गुमनाम ज़िन्दगी
Santosh Shrivastava
■
■ "मान न मान, मैं तेरा मेहमान" की लीक पर चलने का सीधा सा मतल
*Author प्रणय प्रभात*
..सुप्रभात
..सुप्रभात
आर.एस. 'प्रीतम'
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
देश और जनता~
देश और जनता~
दिनेश एल० "जैहिंद"
नारी पुरुष
नारी पुरुष
Neeraj Agarwal
परखा बहुत गया मुझको
परखा बहुत गया मुझको
शेखर सिंह
निजी विद्यालयों का हाल
निजी विद्यालयों का हाल
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
💐प्रेम कौतुक-231💐
💐प्रेम कौतुक-231💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
जिस तरह से बिना चाहे ग़म मिल जाते है
जिस तरह से बिना चाहे ग़म मिल जाते है
shabina. Naaz
*नगर अयोध्या ने अपना फिर, वैभव शुचि साकार कर लिया(हिंदी गजल)
*नगर अयोध्या ने अपना फिर, वैभव शुचि साकार कर लिया(हिंदी गजल)
Ravi Prakash
मंजिल
मंजिल
Swami Ganganiya
!! बोलो कौन !!
!! बोलो कौन !!
Chunnu Lal Gupta
वो बीते हर लम्हें याद रखना जरुरी नही
वो बीते हर लम्हें याद रखना जरुरी नही
'अशांत' शेखर
युगांतर
युगांतर
Suryakant Dwivedi
हरसिंगार
हरसिंगार
Shweta Soni
पद्मावती छंद
पद्मावती छंद
Subhash Singhai
* रंग गुलाल अबीर *
* रंग गुलाल अबीर *
surenderpal vaidya
ऐसी गुस्ताखी भरी नजर से पता नहीं आपने कितनों के दिलों का कत्
ऐसी गुस्ताखी भरी नजर से पता नहीं आपने कितनों के दिलों का कत्
Sukoon
संस्कारी बड़ी - बड़ी बातें करना अच्छी बात है, इनको जीवन में
संस्कारी बड़ी - बड़ी बातें करना अच्छी बात है, इनको जीवन में
लोकेश शर्मा 'अवस्थी'
रंग रहे उमंग रहे और आपका संग रहे
रंग रहे उमंग रहे और आपका संग रहे
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
वफादारी का ईनाम
वफादारी का ईनाम
Shekhar Chandra Mitra
साथ
साथ
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
भारत चाँद पर छाया हैं…
भारत चाँद पर छाया हैं…
शांतिलाल सोनी
श्री कृष्ण भजन 【आने से उसके आए बहार】
श्री कृष्ण भजन 【आने से उसके आए बहार】
Khaimsingh Saini
" वतन "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
Loading...