Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 May 2024 · 1 min read

बहुत टूट के बरसा है,

बहुत टूट के बरसा है,
अंदर तक भिगोया है!!
इस बरसात में मैंने,
बहुत कुछ खोया है!!

©️ डॉ. शशांक शर्मा “रईस”

60 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
कैमिकल वाले रंगों से तो,पड़े रंग में भंग।
कैमिकल वाले रंगों से तो,पड़े रंग में भंग।
Neelam Sharma
* मन में उभरे हुए हर सवाल जवाब और कही भी नही,,
* मन में उभरे हुए हर सवाल जवाब और कही भी नही,,
Vicky Purohit
जच्चा-बच्चासेंटर
जच्चा-बच्चासेंटर
Ravi Prakash
लफ्जों के जाल में उलझा है दिल मेरा,
लफ्जों के जाल में उलझा है दिल मेरा,
Rituraj shivem verma
*पेड़*
*पेड़*
Dushyant Kumar
संतुलित रखो जगदीश
संतुलित रखो जगदीश
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
-- लगन --
-- लगन --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
चंद अशआर -ग़ज़ल
चंद अशआर -ग़ज़ल
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
समय ⏳🕛⏱️
समय ⏳🕛⏱️
डॉ० रोहित कौशिक
एक दूसरे से कुछ न लिया जाए तो कैसा
एक दूसरे से कुछ न लिया जाए तो कैसा
Shweta Soni
* का बा v /s बा बा *
* का बा v /s बा बा *
Mukta Rashmi
■ सब्र और संघर्ष का सुफल।
■ सब्र और संघर्ष का सुफल।
*प्रणय प्रभात*
दौड़ते ही जा रहे सब हर तरफ
दौड़ते ही जा रहे सब हर तरफ
Dhirendra Singh
दोहा- मीन-मेख
दोहा- मीन-मेख
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
शाम हुई, नन्हें परिंदे घर लौट आते हैं,
शाम हुई, नन्हें परिंदे घर लौट आते हैं,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
दरमियाँ
दरमियाँ
Dr. Rajeev Jain
वैसा न रहा
वैसा न रहा
Shriyansh Gupta
"कोयल"
Dr. Kishan tandon kranti
दर्द का दरिया
दर्द का दरिया
Bodhisatva kastooriya
"" *मन तो मन है* ""
सुनीलानंद महंत
🪔🪔दीपमालिका सजाओ तुम।
🪔🪔दीपमालिका सजाओ तुम।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
फितरत को पहचान कर भी
फितरत को पहचान कर भी
Seema gupta,Alwar
*सूनी माँग* पार्ट-1
*सूनी माँग* पार्ट-1
Radhakishan R. Mundhra
सहारा
सहारा
Neeraj Agarwal
SAARC Summit to be held in Nepal on 05 May, dignitaries to be honoured
SAARC Summit to be held in Nepal on 05 May, dignitaries to be honoured
World News
भारत का चाँद…
भारत का चाँद…
Anand Kumar
2927.*पूर्णिका*
2927.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
*साँसों ने तड़फना कब छोड़ा*
*साँसों ने तड़फना कब छोड़ा*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
अहा! जीवन
अहा! जीवन
Punam Pande
सूरज का ताप
सूरज का ताप
Namita Gupta
Loading...