Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 Jan 2024 · 1 min read

बरस पाँच सौ तक रखी,

बरस पाँच सौ तक रखी,
निष्काम भाव धर्म में निष्ठा!
बाईस जनवरी सन् चौबीस
राम लला सु-प्राण प्रतिष्ठा!
नीलम शर्मा ✍️

1 Like · 108 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
-दीवाली मनाएंगे
-दीवाली मनाएंगे
Seema gupta,Alwar
अपनी सत्तर बरस की मां को देखकर,
अपनी सत्तर बरस की मां को देखकर,
Rituraj shivem verma
पाने को गुरु की कृपा
पाने को गुरु की कृपा
महेश चन्द्र त्रिपाठी
3239.*पूर्णिका*
3239.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
पहले एक बात कही जाती थी
पहले एक बात कही जाती थी
DrLakshman Jha Parimal
जीवन एक मकान किराए को,
जीवन एक मकान किराए को,
Bodhisatva kastooriya
कविता
कविता
Neelam Sharma
"आँखें तो"
Dr. Kishan tandon kranti
प्रियवर
प्रियवर
लक्ष्मी सिंह
मार गई मंहगाई कैसे होगी पढ़ाई🙏✍️🙏
मार गई मंहगाई कैसे होगी पढ़ाई🙏✍️🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
शिव हैं शोभायमान
शिव हैं शोभायमान
surenderpal vaidya
Gratitude Fills My Heart Each Day!
Gratitude Fills My Heart Each Day!
R. H. SRIDEVI
संघर्षी वृक्ष
संघर्षी वृक्ष
Vikram soni
प्रशंसा नहीं करते ना देते टिप्पणी जो ,
प्रशंसा नहीं करते ना देते टिप्पणी जो ,
ओनिका सेतिया 'अनु '
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कल जो रहते थे सड़क पर
कल जो रहते थे सड़क पर
Meera Thakur
पहुँचाया है चाँद पर, सफ़ल हो गया यान
पहुँचाया है चाँद पर, सफ़ल हो गया यान
Dr Archana Gupta
अजब तमाशा जिन्दगी,
अजब तमाशा जिन्दगी,
sushil sarna
"पूनम का चांद"
Ekta chitrangini
बिछड़कर मुझे
बिछड़कर मुझे
Dr fauzia Naseem shad
मेरे भगवान
मेरे भगवान
Dr.Priya Soni Khare
इश्क़-ए-फन में फनकार बनना हर किसी के बस की बात नहीं होती,
इश्क़-ए-फन में फनकार बनना हर किसी के बस की बात नहीं होती,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
दुनियाभर में घट रही,
दुनियाभर में घट रही,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
‌everytime I see you I get the adrenaline rush of romance an
‌everytime I see you I get the adrenaline rush of romance an
Sukoon
कोई विरला ही बुद्ध बनता है
कोई विरला ही बुद्ध बनता है
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
Kitna hasin ittefak tha ,
Kitna hasin ittefak tha ,
Sakshi Tripathi
जिनमें कोई बात होती है ना
जिनमें कोई बात होती है ना
Ranjeet kumar patre
क़त्ल कर गया तो क्या हुआ, इश्क़ ही तो है-
क़त्ल कर गया तो क्या हुआ, इश्क़ ही तो है-
Shreedhar
बेवफा
बेवफा
RAKESH RAKESH
मुकाबला करना ही जरूरी नहीं......
मुकाबला करना ही जरूरी नहीं......
shabina. Naaz
Loading...