Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Jul 2023 · 1 min read

फ़ितरत-ए-दिल की मेहरबानी है ।

फ़ितरत-ए-दिल की मेहरबानी है ।
हर नक़ाब की अपनी इक कहानी है।
रूप और रंग पर उसके न जाना
हुस्न क़ातिल है रूह शैतानी है।
नीलम शर्मा ✍️

1 Like · 363 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
Drapetomania
Drapetomania
Vedha Singh
प्रत्यक्षतः दैनिक जीवन मे  मित्रता क दीवार केँ ढाहल जा सकैत
प्रत्यक्षतः दैनिक जीवन मे मित्रता क दीवार केँ ढाहल जा सकैत
DrLakshman Jha Parimal
माँ शारदे-लीला
माँ शारदे-लीला
Kanchan Khanna
नए पुराने रूटीन के याचक
नए पुराने रूटीन के याचक
Dr MusafiR BaithA
गरीबी हटाओं बनाम गरीबी घटाओं
गरीबी हटाओं बनाम गरीबी घटाओं
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
सच समझने में चूका तंत्र सारा
सच समझने में चूका तंत्र सारा
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
मनमुटाव अच्छा नहीं,
मनमुटाव अच्छा नहीं,
sushil sarna
रूह को खुशबुओं सा महकाने वाले
रूह को खुशबुओं सा महकाने वाले
कवि दीपक बवेजा
बेअसर
बेअसर
SHAMA PARVEEN
मुहब्बत की लिखावट में लिखा हर गुल का अफ़साना
मुहब्बत की लिखावट में लिखा हर गुल का अफ़साना
आर.एस. 'प्रीतम'
■ आज का मुक्तक
■ आज का मुक्तक
*Author प्रणय प्रभात*
जीवन में कितना ही धन -धन कर ले मनवा किंतु शौक़ पत्रिका में न
जीवन में कितना ही धन -धन कर ले मनवा किंतु शौक़ पत्रिका में न
Neelam Sharma
पाप का जब भरता है घड़ा
पाप का जब भरता है घड़ा
Paras Nath Jha
किसकी किसकी कैसी फितरत
किसकी किसकी कैसी फितरत
Mukesh Kumar Sonkar
वो चिट्ठियां
वो चिट्ठियां
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
और नहीं बस और नहीं, धरती पर हिंसा और नहीं
और नहीं बस और नहीं, धरती पर हिंसा और नहीं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
अज्ञानता निर्धनता का मूल
अज्ञानता निर्धनता का मूल
लक्ष्मी सिंह
🍁अंहकार🍁
🍁अंहकार🍁
Dr. Vaishali Verma
2274.
2274.
Dr.Khedu Bharti
सत्याग्रह और उग्रता
सत्याग्रह और उग्रता
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
जाति बनाने वालों काहे बनाई तुमने जाति ?
जाति बनाने वालों काहे बनाई तुमने जाति ?
शेखर सिंह
भूल कर
भूल कर
Dr fauzia Naseem shad
****हमारे मोदी****
****हमारे मोदी****
Kavita Chouhan
जय श्रीकृष्ण । ॐ नमो भगवते वासुदेवाय नमः ।
जय श्रीकृष्ण । ॐ नमो भगवते वासुदेवाय नमः ।
Raju Gajbhiye
वो सबके साथ आ रही थी
वो सबके साथ आ रही थी
Keshav kishor Kumar
देवों की भूमि उत्तराखण्ड
देवों की भूमि उत्तराखण्ड
Ritu Asooja
"कवि के हृदय में"
Dr. Kishan tandon kranti
आशा की किरण
आशा की किरण
Neeraj Agarwal
*पाए हर युग में गए, गैलीलियो महान (कुंडलिया)*
*पाए हर युग में गए, गैलीलियो महान (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
जलियांवाला बाग काण्ड शहीदों को श्रद्धांजलि
जलियांवाला बाग काण्ड शहीदों को श्रद्धांजलि
Mohan Pandey
Loading...