Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Jul 2016 · 1 min read

प्रेम……

प्रेम

प्रेम का पाठ सारी दुनिया पढ़ाये
खुद ना इसका सार समझ पाये
बन ज्ञानी सब देते सीख दूजे को
खुद बैठे ह्रदय में नफरत छिपाये !!
!
प्रेम कोई प्रसाद नहीं, बिन तप मिल जाये
इसको पाने के लिए जीवन कम पड़ जाये
ये तो साधना मीरा, रहीम और सूरदास की
सच्चे ह्रदय से जप करे विष अमृत बन जाये !!
!
!
!
निवातियाँ डी. के.

Language: Hindi
Tag: कविता
1 Comment · 285 Views
You may also like:
सिलसिला ए इश्क
सुशील कुमार सिंह "प्रभात"
*तारों की तरह चमकना (बाल कविता)*
Ravi Prakash
बुखारे इश्क
Abhishek Pandey Abhi
अहमियत
Dr fauzia Naseem shad
पिया मिलन की आस
Dr. Girish Chandra Agarwal
अब और नहीं सोचो
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
एक दिया जलाये
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
ज़िन्दगी
Rj Anand Prajapati
तुम्हें डर कैसा .....
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
Dear Mummy ! Dear Papa !
Buddha Prakash
एक लड़का
Shiva Awasthi
साथ तुम्हारा
मोहन
ताजा समाचार है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
अपनी है, फिर भी पराई है बेटियां
Seema 'Tu hai na'
★ दिल्लगी★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
Salam shahe_karbala ki shan me
shabina. Naaz
गणपति वंदना (कैसे तेरा करूँ विसर्जन)
Dr Archana Gupta
मेरी बेटियाँ
लक्ष्मी सिंह
■ नमन, वंदन, अभिनंदन
*Author प्रणय प्रभात*
हक़ीक़त
Shyam Sundar Subramanian
द माउंट मैन: दशरथ मांझी
साहित्य लेखन- एहसास और जज़्बात
नया साल मुबारक
Shekhar Chandra Mitra
ईश्वर के रूप 'पिता'
Gouri tiwari
जय जय इंडियन आर्मी
gurudeenverma198
कौन हिसाब रखे
Kaur Surinder
“ जीने का अंदाज़ “
DrLakshman Jha Parimal
💐💐तुम्हारे साथ की जरूरत है💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
गीत-1 (स्वामी विवेकानंद जी)
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
हम रिश्तों में टूटे दरख़्त के पत्ते हो गए हैं।
Taj Mohammad
✍️तजुर्बों से अधूरे रह जाते
'अशांत' शेखर
Loading...