Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Oct 2022 · 1 min read

पैरासाइट

हमारे जुमले
उन लोगों के लिए
डायनामाइट हैं!
जो कि हमारे
समाज के लिए
एक पैरासाइट हैं!
उनकी गाली
या गोली के डर से
दूसरों की तरह!
हमारी चुप्पी का
सवाल ही नहीं
जब तक हम राइट हैं!
#देवदासी #कुरीति #media #South
#सुधारक #SupremeCourt
#बहुजन #क्रांति #Shudra #दलित
#Devdasi #Tribes

Language: Hindi
Tag: कविता
1 Like · 66 Views
You may also like:
त्याग
Saraswati Bajpai
✍️हम अहल-ए-वतन✍️
'अशांत' शेखर
कुंडलिया छंद
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
■ आज का मुक्तक
*Author प्रणय प्रभात*
तुम्हें डर कैसा .....
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
कि सब ठीक हो जायेगा
Vikram soni
✍️कलम ही काफी है ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
शुभ दीपावली
Dr Archana Gupta
💐💐सुषुप्तयां 'मैं' इत्यस्य भासः न भवति💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
बाधाओं से लड़ना होगा
दशरथ रांकावत 'शक्ति'
विभाजन की व्यथा
Anamika Singh
चांदनी की चादर।
Taj Mohammad
“SAUDI ARABIA HAS TWO SETS OF TEETH-ONE TO SHOW OFF...
DrLakshman Jha Parimal
प्रकृति का उपहार- इंद्रधनुष
Shyam Sundar Subramanian
मारे ऊँची धाँक,कहे मैं पंडित ऊँँचा
Pt. Brajesh Kumar Nayak
संसर्ग मुझमें
Varun Singh Gautam
आज के जीवन की कुछ सच्चाईयां
Ram Krishan Rastogi
होता है तेरी सोच का चेहरा भी आईना
Dr fauzia Naseem shad
सच्चाई का मार्ग
AMRESH KUMAR VERMA
यह नज़र का खेल है
Shivkumar Bilagrami
!! सुंदर वसंत !!
RAJA KUMAR 'CHOURASIA'
पुस्तक समीक्षा -'जन्मदिन'
Rashmi Sanjay
आस्तीक -भाग पांच
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
साथ तुम्हारा
मोहन
बाल कविता: मछली
Rajesh Kumar Arjun
ह्रदय की व्यथा
Nitesh Kumar Srivastava
मैं अवला नही (#हिन्दी_कविता)
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
*गणेश वंदना (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
उसने कहा था
अंजनीत निज्जर
जज बना बे,
Dr.sima
Loading...