Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
May 4, 2022 · 1 min read

पिता

पिता प्रकाश है
पिता आकाश है

पिता आस है
आशा और विश्वास है

कोई गम नहीं
गर पिता पास है

जिस घर मैं है पिता
उस घर में देवों का वास है

धूप में छाँव का एहसास है
बच्चों के लिए पिता खास है.
समाप्त
——–
राजीव विशाल (रोहतासी)
मो-8210666825
9103279819

2 Likes · 3 Comments · 127 Views
You may also like:
दोहावली-रूप का दंभ
asha0963
मैं धरती पर नीर हूं निर्मल, जीवन मैं ही चलाता...
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मै वह हूँ।
Anamika Singh
जीत-हार में भेद ना,
Pt. Brajesh Kumar Nayak
वक्त की चौसर
Saraswati Bajpai
गलतफहमी
विजय कुमार अग्रवाल
महफिल में छा गई।
Taj Mohammad
【26】**!** हम हिंदी हम हिंदुस्तान **!**
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
भक्त कवि स्वर्गीय श्री रविदेव_रामायणी*
Ravi Prakash
फूलों का नया शौक पाला है।
Taj Mohammad
ठोकर तमाम खा के....
अश्क चिरैयाकोटी
रुक्सत रुक्सत बदल गयी तू
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
खुदा बना दे।
Taj Mohammad
पहली मुहब्बत थी वो
अभिनव मिश्र अदम्य
जीना अब बे मतलब सा लग रहा है।
Taj Mohammad
भारतवर्ष
Utsav Kumar Aarya
✍️मैं आज़ाद हूँ (??)✍️
"अशांत" शेखर
*सभी को चाँद है प्यारा ( मुक्तक)*
Ravi Prakash
मजदूर.....
Chandra Prakash Patel
देखो-देखो आया सावन।
लक्ष्मी सिंह
*सोमनाथ मंदिर 【भक्ति-गीत】*
Ravi Prakash
'%पर न जाएं कम % योग्यता का पैमाना नहीं है'
Godambari Negi
हमसे न अब करो
Dr fauzia Naseem shad
कितनी पीड़ा कितने भागीरथी
सूर्यकांत द्विवेदी
तेरी सूरत
DESH RAJ
Ye Sochte Huye Chalna Pad Raha Hai Dagar Main
Muhammad Asif Ali
शबनम।
Taj Mohammad
प्यार करते हो मुझे तुम तो यही उपहार देना
Shivkumar Bilagrami
मेरा दिल हमेशा।
Taj Mohammad
" दिव्य आलोक "
DrLakshman Jha Parimal
Loading...