Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
11 Aug 2023 · 1 min read

न छीनो मुझसे मेरे गम

न छीनो मुझसे मेरे गम
जो जीने का सहारा हैं
बिना दर्दोगम मुझको
मेरा दिल भी गरीब लगता है
M.T.”Ayan”

1 Like · 412 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Mahesh Tiwari 'Ayan'
View all
You may also like:
तुम से सिर्फ इतनी- सी इंतजा है कि -
तुम से सिर्फ इतनी- सी इंतजा है कि -
लक्ष्मी सिंह
फूलों से हँसना सीखें🌹
फूलों से हँसना सीखें🌹
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
हरी भरी तुम सब्ज़ी खाओ|
हरी भरी तुम सब्ज़ी खाओ|
Vedha Singh
*ट्रस्टीशिप विचार: 1982 में प्रकाशित मेरी पुस्तक*
*ट्रस्टीशिप विचार: 1982 में प्रकाशित मेरी पुस्तक*
Ravi Prakash
सुविचार
सुविचार
Sunil Maheshwari
गुमनाम ज़िन्दगी
गुमनाम ज़िन्दगी
Santosh Shrivastava
क्या बचा  है अब बदहवास जिंदगी के लिए
क्या बचा है अब बदहवास जिंदगी के लिए
सिद्धार्थ गोरखपुरी
नीला अम्बर नील सरोवर
नीला अम्बर नील सरोवर
डॉ. शिव लहरी
"तुम्हें याद करना"
Dr. Kishan tandon kranti
"श्रृंगारिका"
Ekta chitrangini
संवेदनहीन
संवेदनहीन
अखिलेश 'अखिल'
है यही मुझसे शिकायत आपकी।
है यही मुझसे शिकायत आपकी।
सत्य कुमार प्रेमी
ग़ज़ल
ग़ज़ल
Jitendra Kumar Noor
बस भगवान नहीं होता,
बस भगवान नहीं होता,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
नहीं जा सकता....
नहीं जा सकता....
Srishty Bansal
vah kaun hai?
vah kaun hai?
ASHISH KUMAR SINGH
5-सच अगर लिखने का हौसला हो नहीं
5-सच अगर लिखने का हौसला हो नहीं
Ajay Kumar Vimal
दो शे'र
दो शे'र
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
संस्कृत के आँचल की बेटी
संस्कृत के आँचल की बेटी
Er.Navaneet R Shandily
एक है ईश्वर
एक है ईश्वर
Dr fauzia Naseem shad
रमणीय प्रेयसी
रमणीय प्रेयसी
Pratibha Pandey
विश्व पर्यावरण दिवस
विश्व पर्यावरण दिवस
Ram Krishan Rastogi
23/217. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/217. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
उच्च पदों पर आसीन
उच्च पदों पर आसीन
Dr.Rashmi Mishra
सितारों की तरह चमकना है, तो सितारों की तरह जलना होगा।
सितारों की तरह चमकना है, तो सितारों की तरह जलना होगा।
Yogi Yogendra Sharma : Motivational Speaker
मन की आँखें खोल
मन की आँखें खोल
Kaushal Kumar Pandey आस
बनारस के घाटों पर रंग है चढ़ा,
बनारस के घाटों पर रंग है चढ़ा,
Sahil Ahmad
माता शबरी
माता शबरी
SHAILESH MOHAN
■ तथ्य : ऐसे समझिए।
■ तथ्य : ऐसे समझिए।
*Author प्रणय प्रभात*
वाणी
वाणी
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
Loading...