Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Mar 2023 · 1 min read

नौकरी (२)

सोचूँगा, फिर एक बात लिखूंगा ,
जज्बात लिखा, एहसास लिखूँगा ।
तेरे इश्क को अपने साथ लिखूंगा,
गर्दन पकड़े तेरा हाथ लिखूंगा ।।

अपने जीवन के अवसाद लिखूंगा ,
हरदम तेरी फ़रियाद लिखूंगा
तेरे पीछे खुद को बर्बाद लिखूंगा ,
तेरी तन्हाई में, खुद को आबाद लिखूंगा ।।

तुझे देखूँगा, फिर तेरी बात लिखूंगा,
तारीफ लिखा, फरियाद लिखूंगा ।
तुझे दिन और खुद को रात लिखूंगा ,
लेकिन आज, कोई न कोई बात लिखूँगा ।।

©अभिषेक पाण्डेय ‘अभि’

29 Likes · 2 Comments · 763 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मधुमास में बृंदावन
मधुमास में बृंदावन
Anamika Tiwari 'annpurna '
अड़बड़ मिठाथे
अड़बड़ मिठाथे
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
एक मुलाकात अजनबी से
एक मुलाकात अजनबी से
Mahender Singh
2122 1212 22/112
2122 1212 22/112
SZUBAIR KHAN KHAN
क्यों अब हम नए बन जाए?
क्यों अब हम नए बन जाए?
डॉ० रोहित कौशिक
जिसके हृदय में जीवों के प्रति दया है,
जिसके हृदय में जीवों के प्रति दया है,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
*सभी के साथ सामंजस्य, बैठाना जरूरी है (हिंदी गजल)*
*सभी के साथ सामंजस्य, बैठाना जरूरी है (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
दस्तक भूली राह दरवाजा
दस्तक भूली राह दरवाजा
Suryakant Dwivedi
*......इम्तहान बाकी है.....*
*......इम्तहान बाकी है.....*
Naushaba Suriya
राजतंत्र क ठगबंधन!
राजतंत्र क ठगबंधन!
Bodhisatva kastooriya
नील पदम् के दोहे
नील पदम् के दोहे
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
जरुरत क्या है देखकर मुस्कुराने की।
जरुरत क्या है देखकर मुस्कुराने की।
Ashwini sharma
🙅आदिपुरुष🙅
🙅आदिपुरुष🙅
*प्रणय प्रभात*
क्रिसमस से नये साल तक धूम
क्रिसमस से नये साल तक धूम
Neeraj Agarwal
"स्याह रात मैं उनके खयालों की रोशनी है"
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
बुंदेली दोहा प्रतियोगिता-150 से चुने हुए श्रेष्ठ 11 दोहे
बुंदेली दोहा प्रतियोगिता-150 से चुने हुए श्रेष्ठ 11 दोहे
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
अनकहा रिश्ता (कविता)
अनकहा रिश्ता (कविता)
Monika Yadav (Rachina)
Unveiling the Unseen: Paranormal Activities and Scientific Investigations
Unveiling the Unseen: Paranormal Activities and Scientific Investigations
Shyam Sundar Subramanian
प्रेम पर्व आया सखी
प्रेम पर्व आया सखी
लक्ष्मी सिंह
Peace peace
Peace peace
Poonam Sharma
इंसानियत की लाश
इंसानियत की लाश
SURYA PRAKASH SHARMA
रहे सीने से लिपटा शॉल पहरेदार बन उनके
रहे सीने से लिपटा शॉल पहरेदार बन उनके
Meenakshi Masoom
सोच का आईना
सोच का आईना
Dr fauzia Naseem shad
ना रास्तों ने साथ दिया,ना मंजिलो ने इंतजार किया
ना रास्तों ने साथ दिया,ना मंजिलो ने इंतजार किया
पूर्वार्थ
जो नहीं मुमकिन था, वो इंसान सब करता गया।
जो नहीं मुमकिन था, वो इंसान सब करता गया।
सत्य कुमार प्रेमी
रंगीला बचपन
रंगीला बचपन
Dr. Pradeep Kumar Sharma
मैं जिससे चाहा,
मैं जिससे चाहा,
Dr. Man Mohan Krishna
"तू है तो"
Dr. Kishan tandon kranti
3286.*पूर्णिका*
3286.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
18- ऐ भारत में रहने वालों
18- ऐ भारत में रहने वालों
Ajay Kumar Vimal
Loading...