Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 Mar 2023 · 1 min read

नैन फिर बादल हुए हैं

नैन फिर बादल हुए हैं ।

क्या निहारूँ फूल झरते
गंध को बेमौत मरते
लुट गए हैं पर्ण सारे
रंग भी काजल हुए हैं ।

नैन फिर बादल हुए हैं ।

छल कहाँ विश्राम लेते
दर्द आठों याम देते
मौनमुख कबतक न बोले
प्राण भी पागल हुए हैं ।

नैन फिर बादल हुए हैं ।

क्या मिला विष को पचाकर
कैर को चंदन बनाकर
क्षत रही वंशी हँसी की
हत सुखद मादल हुए हैं l

नैन फिर बादल हुए हैं ।

अशोक दीप
जयपुर
8278697171

Language: Hindi
1 Like · 379 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बहुमूल्य जीवन और युवा पीढ़ी
बहुमूल्य जीवन और युवा पीढ़ी
Gaurav Sony
सरस्वती वंदना
सरस्वती वंदना
Neeraj Mishra " नीर "
अब कौन सा रंग बचा साथी
अब कौन सा रंग बचा साथी
Dilip Kumar
क्रोधी सदा भूत में जीता
क्रोधी सदा भूत में जीता
महेश चन्द्र त्रिपाठी
मस्जिद से अल्लाह का एजेंट भोंपू पर बोल रहा है
मस्जिद से अल्लाह का एजेंट भोंपू पर बोल रहा है
Dr MusafiR BaithA
नशा नाश की गैल हैं ।।
नशा नाश की गैल हैं ।।
Dr. Akhilesh Baghel "Akhil"
*लाल हैं कुछ हरी, सावनी चूड़ियॉं (हिंदी गजल)*
*लाल हैं कुछ हरी, सावनी चूड़ियॉं (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
मां
मां
Dr. Pradeep Kumar Sharma
■ विशेष व्यंग्य...
■ विशेष व्यंग्य...
*प्रणय प्रभात*
"यही वक्त है"
Dr. Kishan tandon kranti
ये किस धर्म के लोग हैं
ये किस धर्म के लोग हैं
gurudeenverma198
हुआ दमन से पार
हुआ दमन से पार
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
*सुनो माँ*
*सुनो माँ*
sudhir kumar
उलझते रिश्तो में मत उलझिये
उलझते रिश्तो में मत उलझिये
Harminder Kaur
दो शब्द सही
दो शब्द सही
Dr fauzia Naseem shad
लाल बहादुर शास्त्री
लाल बहादुर शास्त्री
Kavita Chouhan
2362.पूर्णिका
2362.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मैं तो हमेशा बस मुस्कुरा के चलता हूॅ॑
मैं तो हमेशा बस मुस्कुरा के चलता हूॅ॑
VINOD CHAUHAN
देना और पाना
देना और पाना
Sandeep Pande
मन होता है मेरा,
मन होता है मेरा,
Dr Tabassum Jahan
मेरा मन उड़ चला पंख लगा के बादलों के
मेरा मन उड़ चला पंख लगा के बादलों के
shabina. Naaz
अग्नि परीक्षा सहने की एक सीमा थी
अग्नि परीक्षा सहने की एक सीमा थी
Shweta Soni
'आभार' हिन्दी ग़ज़ल
'आभार' हिन्दी ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
कृष्ण भक्ति
कृष्ण भक्ति
लक्ष्मी सिंह
हिन्दी पर नाज है !
हिन्दी पर नाज है !
Om Prakash Nautiyal
उम्मीद
उम्मीद
Pratibha Pandey
शिक्षक दिवस
शिक्षक दिवस
पाण्डेय चिदानन्द "चिद्रूप"
मनी प्लांट
मनी प्लांट
कार्तिक नितिन शर्मा
गीत
गीत
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
Loading...