Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

“नाक”

****************************
“नाक”
****************************

दर्ज़ा होंठों के ऊपर का,
अगल-बगल रहती दो आँख ,
खडी बीच मे बडी शान से,
देखो रौब जमाती नाक ।

किसी-किसी की लम्बी होती,
किसी –किसी की चपटी नाक,
किसी किसी की हुक्के जैसी,
बेढब सी इतराती नाक ।

गन्ध अनेकों पल में जाने,
चश्मा खूब सँभाले नाक,
कभी-कभी तो सँभल न पाती,
सर्दी में जब आती नाक ।

कभी किसी को बुरा कहो तो,
उसको फ़िर लग जाती नाक,
अगर कभी मन की ना हो तो,
बिगडे मूड, सिकुडती नाक ।

इज्जत का पर्याय हो चु्की,
बेइज्जत हो कटती नाक,
सीखो प्यारे, नाक बचाना,
बडे काम की होती नाक ।

*************************************
हरीश चन्द्र लोहुमी, लखनऊ (उ॰प्र॰)
*************************************

2 Comments · 260 Views
You may also like:
मेरे दिल के करीब,आओगे कब तुम ?
Ram Krishan Rastogi
उम्मीद का चराग।
Taj Mohammad
झरने और कवि का वार्तालाप
Ram Krishan Rastogi
दाता
निकेश कुमार ठाकुर
नींबू की चाह
Ram Krishan Rastogi
मौत ने कुछ बिगाड़ा नहीं
अरशद रसूल /Arshad Rasool
एक दौर था हम भी आशिक हुआ करते थे
Krishan Singh
कभी मिलोगी तब सुनाऊँगा ---- ✍️ मुन्ना मासूम
मुन्ना मासूम
खेत
Buddha Prakash
फर्क पिज्जा में औ'र निवाले में।
सत्य कुमार प्रेमी
ज़रा सी देर में सूरज निकलने वाला है
Dr. Sunita Singh
हैप्पी फादर्स डे (लघुकथा)
drpranavds
इन्द्रवज्रा छंद (शिवेंद्रवज्रा स्तुति)
बासुदेव अग्रवाल 'नमन'
न्याय का पथ
AMRESH KUMAR VERMA
सेतुबंध रामेश्वर
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
🌻🌻🌸"इतना क्यों बहका रहे हो,अपने अन्दाज पर"🌻🌻🌸
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
✍️खुशी✍️
"अशांत" शेखर
माँ
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
"DIDN'T LEARN ANYTHING IF WE DON'T PRACTICE IT "
DrLakshman Jha Parimal
रावण - विभीषण संवाद (मेरी कल्पना)
Anamika Singh
تیری یادوں کی خوشبو فضا چاہتا ہوں۔
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
" अपनी ढपली अपना राग "
Dr Meenu Poonia
जैवविविधता नहीं मिटाओ, बन्धु अब तो होश में आओ
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
घातक शत्रु
AMRESH KUMAR VERMA
✍️✍️भोंगे✍️✍️
"अशांत" शेखर
गैरों की क्या बात करें
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
तुम्हारा हर अश्क।
Taj Mohammad
वो मेरा हो नहीं सकता
dks.lhp
✍️✍️पराये दर्द✍️✍️
"अशांत" शेखर
योग है अनमोल साधना
Anamika Singh
Loading...