Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Jul 2016 · 1 min read

“नाक”

****************************
“नाक”
****************************

दर्ज़ा होंठों के ऊपर का,
अगल-बगल रहती दो आँख ,
खडी बीच मे बडी शान से,
देखो रौब जमाती नाक ।

किसी-किसी की लम्बी होती,
किसी –किसी की चपटी नाक,
किसी किसी की हुक्के जैसी,
बेढब सी इतराती नाक ।

गन्ध अनेकों पल में जाने,
चश्मा खूब सँभाले नाक,
कभी-कभी तो सँभल न पाती,
सर्दी में जब आती नाक ।

कभी किसी को बुरा कहो तो,
उसको फ़िर लग जाती नाक,
अगर कभी मन की ना हो तो,
बिगडे मूड, सिकुडती नाक ।

इज्जत का पर्याय हो चु्की,
बेइज्जत हो कटती नाक,
सीखो प्यारे, नाक बचाना,
बडे काम की होती नाक ।

*************************************
हरीश चन्द्र लोहुमी, लखनऊ (उ॰प्र॰)
*************************************

Language: Hindi
2 Comments · 825 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
हिंदी दिवस
हिंदी दिवस
Shashi Dhar Kumar
रोम-रोम में राम....
रोम-रोम में राम....
डॉ.सीमा अग्रवाल
ग़ज़ल(चलो हम करें फिर मुहब्ब्त की बातें)
ग़ज़ल(चलो हम करें फिर मुहब्ब्त की बातें)
डॉक्टर रागिनी
बिन बोले ही हो गई, मन  से  मन  की  बात ।
बिन बोले ही हो गई, मन से मन की बात ।
sushil sarna
मां सीता की अग्नि परीक्षा ( महिला दिवस)
मां सीता की अग्नि परीक्षा ( महिला दिवस)
Rj Anand Prajapati
दिल हो काबू में....😂
दिल हो काबू में....😂
Jitendra Chhonkar
"चोट"
Dr. Kishan tandon kranti
నేటి ప్రపంచం
నేటి ప్రపంచం
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
प्यार की कलियुगी परिभाषा
प्यार की कलियुगी परिभाषा
Mamta Singh Devaa
*खारे पानी से भरा, सागर मिला विशाल (कुंडलिया)*
*खारे पानी से भरा, सागर मिला विशाल (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
शिद्दत से की गई मोहब्बत
शिद्दत से की गई मोहब्बत
Harminder Kaur
अब बदला किस किस से लू जनाब
अब बदला किस किस से लू जनाब
Umender kumar
सामाजिकता
सामाजिकता
Punam Pande
अपने साथ तो सब अपना है
अपने साथ तो सब अपना है
Dheerja Sharma
2573.पूर्णिका
2573.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
पसीने वाली गाड़ी
पसीने वाली गाड़ी
Lovi Mishra
क्या मथुरा क्या काशी जब मन में हो उदासी ?
क्या मथुरा क्या काशी जब मन में हो उदासी ?
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
कुछ लोग
कुछ लोग
Shweta Soni
आंखों की भाषा के आगे
आंखों की भाषा के आगे
Ragini Kumari
"राजनीति में जोश, जुबाँ, ज़मीर, जज्बे और जज्बात सब बदल जाते ह
डॉ.एल. सी. जैदिया 'जैदि'
प्रवासी चाँद
प्रवासी चाँद
Ramswaroop Dinkar
वैर भाव  नहीं  रखिये कभी
वैर भाव नहीं रखिये कभी
Paras Nath Jha
यदि सत्य बोलने के लिए राजा हरिश्चंद्र को याद किया जाता है
यदि सत्य बोलने के लिए राजा हरिश्चंद्र को याद किया जाता है
शेखर सिंह
दुनियां में मेरे सामने क्या क्या बदल गया।
दुनियां में मेरे सामने क्या क्या बदल गया।
सत्य कुमार प्रेमी
*Broken Chords*
*Broken Chords*
Poonam Matia
शादी की उम्र नहीं यह इनकी
शादी की उम्र नहीं यह इनकी
gurudeenverma198
🤔कौन हो तुम.....🤔
🤔कौन हो तुम.....🤔
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
जमाने की नजरों में ही रंजीश-ए-हालात है,
जमाने की नजरों में ही रंजीश-ए-हालात है,
manjula chauhan
कुंडलिया छंद
कुंडलिया छंद
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
Loading...