Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 Nov 2016 · 1 min read

धर्म क्या है ?

विषय – धर्म

धर्म क्या है ?
धर्म कोई पंथ नहीं,
धर्म कोई संत नहीं ।
धर्म की ना शुरूआत है,
धर्म का कोई अंत नहीं ।।

धर्म क्या है ?
धर्म मनोकामना पूर्ति के लिए
मंदिरों में किया गया दान नहीं,
धर्म के आगे सब नतमस्तक
धर्म से बढ़कर कोई महान नहीं ।

धर्म क्या है ?
प्राणियों पे क्षमा करना,
पशुओं पे दया करना ।
मानव होकर दया व
क्षमा का भाव धरना ।

धर्म क्या है ?
धर्म है अपने आपको
मानव सिद्ध करना,
ना कि केवल दिखावा कर
अपने नाम को प्रसिद्ध करना ।।

धर्म क्या है ?
धर्म वो है जो नाश करदे
मानव की दानवता
‘नवीन’ की नजर में है
एक ही धर्म केवल “मानवता”

– नवीन कुमार जैन

Language: Hindi
Tag: गीत
422 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Naveen Jain
View all
You may also like:
कबीर: एक नाकाम पैगंबर
कबीर: एक नाकाम पैगंबर
Shekhar Chandra Mitra
ठंडी क्या आफत है भाई
ठंडी क्या आफत है भाई
AJAY AMITABH SUMAN
सेल्फी जेनेरेशन
सेल्फी जेनेरेशन
Dr. Pradeep Kumar Sharma
वो शख्स लौटता नहीं
वो शख्स लौटता नहीं
Surinder blackpen
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
कल देखते ही फेरकर नजरें निकल गए।
कल देखते ही फेरकर नजरें निकल गए।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
गहन शोध से पता चला है कि
गहन शोध से पता चला है कि
*Author प्रणय प्रभात*
हो मेहनत सच्चे दिल से,अक्सर परिणाम बदल जाते हैं
हो मेहनत सच्चे दिल से,अक्सर परिणाम बदल जाते हैं
पूर्वार्थ
ना कोई हिन्दू गलत है,
ना कोई हिन्दू गलत है,
SPK Sachin Lodhi
जब से हैं तब से हम
जब से हैं तब से हम
Dr fauzia Naseem shad
घर सम्पदा भार रहे, रहना मिलकर सब।
घर सम्पदा भार रहे, रहना मिलकर सब।
Anil chobisa
बात सीधी थी
बात सीधी थी
Dheerja Sharma
फ़ितरत
फ़ितरत
Manisha Manjari
"सुनो"
Dr. Kishan tandon kranti
*जाओ ले संदेश शुभ ,प्रियतम पास कपोत (कुंडलिया)*
*जाओ ले संदेश शुभ ,प्रियतम पास कपोत (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
ताजा समाचार है?
ताजा समाचार है?
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
छत्रपति शिवाजी महाराज V/s संसार में तथाकथित महान समझे जाने वालें कुछ योद्धा
छत्रपति शिवाजी महाराज V/s संसार में तथाकथित महान समझे जाने वालें कुछ योद्धा
Pravesh Shinde
ज़िदगी के फ़लसफ़े
ज़िदगी के फ़लसफ़े
Shyam Sundar Subramanian
।2508.पूर्णिका
।2508.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
dr arun kumar shastri
dr arun kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
प्यार और विश्वास
प्यार और विश्वास
Harminder Kaur
चम-चम चमके चाँदनी
चम-चम चमके चाँदनी
Vedha Singh
कोई हंस रहा है कोई रो रहा है 【निर्गुण भजन】
कोई हंस रहा है कोई रो रहा है 【निर्गुण भजन】
Khaimsingh Saini
जरूरी तो नहीं
जरूरी तो नहीं
Madhavi Srivastava
पिताजी का आशीर्वाद है।
पिताजी का आशीर्वाद है।
Kuldeep mishra (KD)
क्षणिक स्वार्थ में हो रहे, रिश्ते तेरह तीन।
क्षणिक स्वार्थ में हो रहे, रिश्ते तेरह तीन।
डॉ.सीमा अग्रवाल
खाली मन...... एक सच
खाली मन...... एक सच
Neeraj Agarwal
हँसने-हँसाने में नहीं कोई खामी है।
हँसने-हँसाने में नहीं कोई खामी है।
लक्ष्मी सिंह
क्रिसमस दिन भावे 🥀🙏
क्रिसमस दिन भावे 🥀🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
स्वाद छोड़िए, स्वास्थ्य पर ध्यान दीजिए।
स्वाद छोड़िए, स्वास्थ्य पर ध्यान दीजिए।
Sanjay ' शून्य'
Loading...