Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Dec 2023 · 1 min read

धरती ने जलवाष्पों को आसमान तक संदेश भिजवाया

धरती ने जलवाष्पों को आसमान तक संदेश भिजवाया
धरती तुम्हारी पल-पल प्रतीक्षा कर रही जलवाष्पों ने बताया
आसमान भावविभोर हो गया डाकिया भी बादल बन रो गया
आसमान के रोने पर धरती भी रोने लगी
उसकी सहेलियां नदियाँ संग होने लगीं
चारों और हाहाकार मचने लगा
आंसुओं से मानो संसार ढकने लगा
धरती ने आसमान कि ओर सिर उठाया
आसमान झुका और धरती का माथा चूम लिया
इस तरह धरती ने आसमान के आंसुओं को हर लिया।।
Ruby kumari

209 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
तबीयत मचल गई
तबीयत मचल गई
Surinder blackpen
क्या मथुरा क्या काशी जब मन में हो उदासी ?
क्या मथुरा क्या काशी जब मन में हो उदासी ?
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
धर्म अधर्म की बाते करते, पूरी मनवता को सतायेगा
धर्म अधर्म की बाते करते, पूरी मनवता को सतायेगा
Anil chobisa
राम के नाम को यूं ही सुरमन करें
राम के नाम को यूं ही सुरमन करें
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
*रोना-धोना छोड़ कर, मुस्काओ हर रोज (कुंडलिया)*
*रोना-धोना छोड़ कर, मुस्काओ हर रोज (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
जीवन में चुनौतियां हर किसी
जीवन में चुनौतियां हर किसी
नेताम आर सी
श्रीराम का पता
श्रीराम का पता
नन्दलाल सुथार "राही"
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
(4) ऐ मयूरी ! नाच दे अब !
(4) ऐ मयूरी ! नाच दे अब !
Kishore Nigam
Tajposhi ki rasam  ho rhi hai
Tajposhi ki rasam ho rhi hai
Sakshi Tripathi
सावन के पर्व-त्योहार
सावन के पर्व-त्योहार
लक्ष्मी सिंह
इतना बवाल मचाएं हो के ये मेरा हिंदुस्थान है
इतना बवाल मचाएं हो के ये मेरा हिंदुस्थान है
'अशांत' शेखर
// तुम सदा खुश रहो //
// तुम सदा खुश रहो //
Shivkumar barman
सफलता के बीज बोने का सर्वोत्तम समय
सफलता के बीज बोने का सर्वोत्तम समय
Paras Nath Jha
♤⛳मातृभाषा हिन्दी हो⛳♤
♤⛳मातृभाषा हिन्दी हो⛳♤
SPK Sachin Lodhi
पुण्यधरा का स्पर्श कर रही, स्वर्ण रश्मियां।
पुण्यधरा का स्पर्श कर रही, स्वर्ण रश्मियां।
surenderpal vaidya
आज वही दिन आया है
आज वही दिन आया है
डिजेन्द्र कुर्रे
दोहा
दोहा
दुष्यन्त 'बाबा'
💐अज्ञात के प्रति-92💐
💐अज्ञात के प्रति-92💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
तुम मुझे बना लो
तुम मुझे बना लो
श्याम सिंह बिष्ट
प्रेस कांफ्रेंस
प्रेस कांफ्रेंस
Harish Chandra Pande
जीयो
जीयो
Sanjay ' शून्य'
#लघुकथा-
#लघुकथा-
*Author प्रणय प्रभात*
भागो मत, दुनिया बदलो!
भागो मत, दुनिया बदलो!
Shekhar Chandra Mitra
खुशनसीब
खुशनसीब
Naushaba Suriya
हम केतबो ठुमकि -ठुमकि नाचि लिय
हम केतबो ठुमकि -ठुमकि नाचि लिय
DrLakshman Jha Parimal
जिंदगी है खाली गागर देख लो।
जिंदगी है खाली गागर देख लो।
सत्य कुमार प्रेमी
चंद दोहे नारी पर...
चंद दोहे नारी पर...
डॉ.सीमा अग्रवाल
2526.पूर्णिका
2526.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
everyone says- let it be the defect of your luck, be forget
everyone says- let it be the defect of your luck, be forget
Ankita Patel
Loading...