Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 Mar 2019 · 1 min read

दोहे

मात पिता का कीजिए,
सदैव आदर मान।
जिनसे हमको है मिला,
इस जीवन का दान।।

अहंकार से तुम सदा,
बचना मेरे यार।
रावण की गति क्या हुई,
जाने सब संसार।।

गुरु बिन ज्ञान कहीं नहीं,
जानत सब संसार।
वंदन को स्वीकारिए,
नमन है बार-बार।।

मुख पर मीठे बोल हों,
मन में मधुर विचार।
सम्मुख मीठे बैन के,
हारा यह संसार।।

मान सभी को दीजिए,
सब उसकी संतान।
पालक सबका एक ही,
निर्धन या धनवान।।

Language: Hindi
460 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
हर वक़्त तुम्हारी कमी सताती है
हर वक़्त तुम्हारी कमी सताती है
shabina. Naaz
अरबपतियों की सूची बेलगाम
अरबपतियों की सूची बेलगाम
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
यारों की महफ़िल सजे ज़माना हो गया,
यारों की महफ़िल सजे ज़माना हो गया,
Mrs PUSHPA SHARMA {पुष्पा शर्मा अपराजिता}
ज़हर क्यों पी लिया
ज़हर क्यों पी लिया
Surinder blackpen
पसंद तो आ गई तस्वीर, यह आपकी हमको
पसंद तो आ गई तस्वीर, यह आपकी हमको
gurudeenverma198
जीवन में असली कलाकार वो गरीब मज़दूर
जीवन में असली कलाकार वो गरीब मज़दूर
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
हम जिएँ न जिएँ दोस्त
हम जिएँ न जिएँ दोस्त
Vivek Mishra
నీవే మా రైతువి...
నీవే మా రైతువి...
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
अधबीच
अधबीच
Dr. Mahesh Kumawat
हमेशा आंखों के समुद्र ही बहाओगे
हमेशा आंखों के समुद्र ही बहाओगे
कवि दीपक बवेजा
सच तो रंग काला भी कुछ कहता हैं
सच तो रंग काला भी कुछ कहता हैं
Neeraj Agarwal
मैं भागीरथ हो जाऊ ,
मैं भागीरथ हो जाऊ ,
Kailash singh
प्रकृति
प्रकृति
नवीन जोशी 'नवल'
कोई भोली समझता है
कोई भोली समझता है
VINOD CHAUHAN
जो होता है सही  होता  है
जो होता है सही होता है
Anil Mishra Prahari
ज़िंदगी मायने बदल देगी
ज़िंदगी मायने बदल देगी
Dr fauzia Naseem shad
“अखनो मिथिला कानि रहल अछि ”
“अखनो मिथिला कानि रहल अछि ”
DrLakshman Jha Parimal
ध्रुव तारा
ध्रुव तारा
Bodhisatva kastooriya
सोन चिरैया
सोन चिरैया
Mukta Rashmi
*नयनों में तुम बस गए, रामलला अभिराम (गीत)*
*नयनों में तुम बस गए, रामलला अभिराम (गीत)*
Ravi Prakash
मैंने मेरे हिसाब से मेरे जीवन में
मैंने मेरे हिसाब से मेरे जीवन में
Sonam Puneet Dubey
जाओ तेइस अब है, आना चौबिस को।
जाओ तेइस अब है, आना चौबिस को।
सत्य कुमार प्रेमी
प्रेम और पुष्प, होता है सो होता है, जिस तरह पुष्प को जहां भी
प्रेम और पुष्प, होता है सो होता है, जिस तरह पुष्प को जहां भी
Sanjay ' शून्य'
*
*"वो भी क्या दिवाली थी"*
Shashi kala vyas
........,
........,
शेखर सिंह
"कठपुतली"
Dr. Kishan tandon kranti
2906.*पूर्णिका*
2906.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
बैठा के पास पूंछ ले कोई हाल मेरा
बैठा के पास पूंछ ले कोई हाल मेरा
शिव प्रताप लोधी
■ बन्द करो पाखण्ड...!!
■ बन्द करो पाखण्ड...!!
*प्रणय प्रभात*
Feelings of love
Feelings of love
Bidyadhar Mantry
Loading...