Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Sep 2023 · 1 min read

देश की हिन्दी

** गीतिका **
~~
राष्ट्र भाषा है हमारे देश की हिंदी।
बढ़ रही है पग पसारे देश की हिंदी।

सब दिलों में खूब ऊंचा स्थान है इसका।
प्यार से सबको निहारे देश की हिंदी।

पीढ़ियां इसको बढ़ाए जा रही आगे।
रूप यौवन को निखारे देश की हिंदी।

ज्ञान के विज्ञान के आयाम नित नूतन।
छू रही है आज सारे देश की हिंदी।

साधनारत शारदे मां की मधुर पावन।
आरती हर दिन उतारे देश की हिंदी।
~~~~~~~~~~~~~~~~~~

** कुण्डलिया **
~~
खूब चमकता जा रहा, हिन्दी का आदित्य।
और आलोकित कर रहा, राह प्रगति की नित्य।
राह प्रगति की नित्य, ज्ञान का दीप जलाता।
राष्ट्रप्रेम का भाव, हृदय में सहज जगाता।
कहते वैद्य सुरेन्द्र, देश में बढ़ी सजगता।
हिन्दी का सौभाग्य, जा रहा खूब चमकता।
~~~~~~~~~~~~~~~~~~

** मुक्तक **
~~
अभिव्यक्ति नभ पर खूब उड़ती जा रही है।
हर क्षेत्र में निर्बाध बढ़ती जा रही है।
हिन्दी हमारी राष्ट्रभाषा श्रेष्ठतम यह।
मां भारती को धन्य करती जा रही है।
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
-सुरेन्द्रपाल वैद्य, १५/०९/ २०२३

237 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from surenderpal vaidya
View all
You may also like:
फूल फूल और फूल
फूल फूल और फूल
SATPAL CHAUHAN
वक्त से वक्त को चुराने चले हैं
वक्त से वक्त को चुराने चले हैं
Harminder Kaur
#सुप्रभात
#सुप्रभात
*Author प्रणय प्रभात*
राष्ट्र भाषा राज भाषा
राष्ट्र भाषा राज भाषा
Dinesh Gupta
" मँगलमय नव-वर्ष-2024 "
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
चक्षु सजल दृगंब से अंतः स्थल के घाव से
चक्षु सजल दृगंब से अंतः स्थल के घाव से
Er.Navaneet R Shandily
डिजिटलीकरण
डिजिटलीकरण
Seema gupta,Alwar
"वसन्त"
Dr. Kishan tandon kranti
किसी की हिफाजत में,
किसी की हिफाजत में,
Dr. Man Mohan Krishna
ये दिल है जो तुम्हारा
ये दिल है जो तुम्हारा
Ram Krishan Rastogi
वोट दिया किसी और को,
वोट दिया किसी और को,
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
लफ्ज़
लफ्ज़
Dr Parveen Thakur
कल तक जो थे हमारे, अब हो गए विचारे।
कल तक जो थे हमारे, अब हो गए विचारे।
सत्य कुमार प्रेमी
गौमाता को पूजिए, गौ का रखिए ध्यान (कुंडलिया)
गौमाता को पूजिए, गौ का रखिए ध्यान (कुंडलिया)
Ravi Prakash
दोहे- साँप
दोहे- साँप
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
बचपन
बचपन
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
मन उसको ही पूजता, उसको ही नित ध्याय।
मन उसको ही पूजता, उसको ही नित ध्याय।
डॉ.सीमा अग्रवाल
“नये वर्ष का अभिनंदन”
“नये वर्ष का अभिनंदन”
DrLakshman Jha Parimal
मैं अपने दिल में मुस्तकबिल नहीं बनाऊंगा
मैं अपने दिल में मुस्तकबिल नहीं बनाऊंगा
कवि दीपक बवेजा
*अहंकार*
*अहंकार*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
****शीतल प्रभा****
****शीतल प्रभा****
Kavita Chouhan
लार्जर देन लाइफ होने लगे हैं हिंदी फिल्मों के खलनायक -आलेख
लार्जर देन लाइफ होने लगे हैं हिंदी फिल्मों के खलनायक -आलेख
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
*
*
Rashmi Sanjay
चाय और सिगरेट
चाय और सिगरेट
आकाश महेशपुरी
"मां की ममता"
Pushpraj Anant
भोर अगर है जिंदगी,
भोर अगर है जिंदगी,
sushil sarna
हटा 370 धारा
हटा 370 धारा
लक्ष्मी सिंह
23/20.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/20.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
कभी छोड़ना नहीं तू , यह हाथ मेरा
कभी छोड़ना नहीं तू , यह हाथ मेरा
gurudeenverma198
🐼आपकों देखना🐻‍❄️
🐼आपकों देखना🐻‍❄️
Vivek Mishra
Loading...