Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Aug 2023 · 1 min read

दूर नज़र से होकर भी जो, रहता दिल के पास।

दूर नज़र से होकर भी जो, रहता दिल के पास।
अपने से भी ज्यादा जिस पर, कर सकते विश्वास।
स्मृति मात्र से जिसकी तिरता, अधरों पर मृदु हास।
अनगिन मित्रों की टोली में, मित्र वही है खास।

© सीमा अग्रवाल

1 Like · 438 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from डॉ.सीमा अग्रवाल
View all
You may also like:
জীবন চলচ্চিত্রের একটি খালি রিল, যেখানে আমরা আমাদের ইচ্ছামত গ
জীবন চলচ্চিত্রের একটি খালি রিল, যেখানে আমরা আমাদের ইচ্ছামত গ
Sakhawat Jisan
चाय पार्टी
चाय पार्टी
Mukesh Kumar Sonkar
*पत्रिका समीक्षा*
*पत्रिका समीक्षा*
Ravi Prakash
आज भगवान का बनाया हुआ
आज भगवान का बनाया हुआ
प्रेमदास वसु सुरेखा
श्रृष्टि का आधार!
श्रृष्टि का आधार!
कविता झा ‘गीत’
Kitna hasin ittefak tha ,
Kitna hasin ittefak tha ,
Sakshi Tripathi
शांति से खाओ और खिलाओ
शांति से खाओ और खिलाओ
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
खत पढ़कर तू अपने वतन का
खत पढ़कर तू अपने वतन का
gurudeenverma198
गुब्बारा
गुब्बारा
लक्ष्मी सिंह
अक्सर लोग सोचते हैं,
अक्सर लोग सोचते हैं,
करन ''केसरा''
चाँद और इन्सान
चाँद और इन्सान
Kanchan Khanna
जो रास्ते हमें चलना सीखाते हैं.....
जो रास्ते हमें चलना सीखाते हैं.....
कवि दीपक बवेजा
लकवा
लकवा
Dr. Pradeep Kumar Sharma
जिंदगी को बोझ मान
जिंदगी को बोझ मान
भरत कुमार सोलंकी
सदा खुश रहो ये दुआ है मेरी
सदा खुश रहो ये दुआ है मेरी
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
" मेरा राज मेरा भगवान है "
Dr Meenu Poonia
दोस्त और दोस्ती
दोस्त और दोस्ती
Neeraj Agarwal
(25) यह जीवन की साँझ, और यह लम्बा रस्ता !
(25) यह जीवन की साँझ, और यह लम्बा रस्ता !
Kishore Nigam
कारोबार
कारोबार
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
#शेर-
#शेर-
*प्रणय प्रभात*
आँखों के आंसू झूठे है, निश्छल हृदय से नहीं झरते है।
आँखों के आंसू झूठे है, निश्छल हृदय से नहीं झरते है।
Buddha Prakash
23/36.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/36.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
"Looking up at the stars, I know quite well
पूर्वार्थ
*
*"हरियाली तीज"*
Shashi kala vyas
पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर को उनकी पुण्यतिथि पर शत शत नमन्।
पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर को उनकी पुण्यतिथि पर शत शत नमन्।
Anand Kumar
हमारा हाल अब उस तौलिए की तरह है बिल्कुल
हमारा हाल अब उस तौलिए की तरह है बिल्कुल
Johnny Ahmed 'क़ैस'
"सबक"
Dr. Kishan tandon kranti
She was the Mother - an ode to Mother Teresa
She was the Mother - an ode to Mother Teresa
Dhriti Mishra
Bindesh kumar jha
Bindesh kumar jha
Bindesh kumar jha
किसान आंदोलन
किसान आंदोलन
मनोज कर्ण
Loading...