Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Oct 2022 · 1 min read

दास्तां-ए-दर्द

दास्तां-ए-दर्द

जीने की इच्छा चाही तो, अपशगुन बता दिया,
चैन की सांस लेनी चाही तो, टाइमपास बता दिया।
आवाज उठानी चाही तो, नासमझ बता दिया,
बहस करनी चाही तो, कुलक्षणी बता दिया।।

To be continued..
#seematuhaina

3 Likes · 2 Comments · 228 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
साहित्य चेतना मंच की मुहीम घर-घर ओमप्रकाश वाल्मीकि
साहित्य चेतना मंच की मुहीम घर-घर ओमप्रकाश वाल्मीकि
Dr. Narendra Valmiki
अलसाई आँखे
अलसाई आँखे
A🇨🇭maanush
dr arun kumar shastri
dr arun kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मन की डोर
मन की डोर
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
शायद ये सांसे सिसक रही है
शायद ये सांसे सिसक रही है
Ram Krishan Rastogi
जीवन अप्रत्याशित
जीवन अप्रत्याशित
पूर्वार्थ
कसम, कसम, हाँ तेरी कसम
कसम, कसम, हाँ तेरी कसम
gurudeenverma198
चुपचाप सा परीक्षा केंद्र
चुपचाप सा परीक्षा केंद्र"
Dr Meenu Poonia
2387.पूर्णिका
2387.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
भिखारी का बैंक
भिखारी का बैंक
Punam Pande
तअलीम से ग़ाफ़िल
तअलीम से ग़ाफ़िल
Dr fauzia Naseem shad
#मंगलकामनाएं
#मंगलकामनाएं
*Author प्रणय प्रभात*
सफलता का महत्व समझाने को असफलता छलती।
सफलता का महत्व समझाने को असफलता छलती।
Neelam Sharma
मगरूर क्यों हैं
मगरूर क्यों हैं
Mamta Rani
बेटा ! बड़े होकर क्या बनोगे ? (हास्य-व्यंग्य)*
बेटा ! बड़े होकर क्या बनोगे ? (हास्य-व्यंग्य)*
Ravi Prakash
रदुतिया
रदुतिया
Nanki Patre
05/05/2024
05/05/2024
Satyaveer vaishnav
गज़ल सी कविता
गज़ल सी कविता
Kanchan Khanna
शिक्षक हमारे देश के
शिक्षक हमारे देश के
Bhaurao Mahant
एकाकीपन
एकाकीपन
लक्ष्मी सिंह
बड़े भाग मानुष तन पावा
बड़े भाग मानुष तन पावा
आकांक्षा राय
माँ का प्यार पाने प्रभु धरा पर आते है ?
माँ का प्यार पाने प्रभु धरा पर आते है ?
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
*
*"गणतंत्र दिवस"*
Shashi kala vyas
संस्कार संयुक्त परिवार के
संस्कार संयुक्त परिवार के
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
भाई हो तो कृष्णा जैसा
भाई हो तो कृष्णा जैसा
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
एक कहानी- पुरानी यादें
एक कहानी- पुरानी यादें
Neeraj Agarwal
मुक्तक
मुक्तक
sushil sarna
शेर ग़ज़ल
शेर ग़ज़ल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
"पहली नजर"
Dr. Kishan tandon kranti
सरस्वती वंदना
सरस्वती वंदना
Sushil Pandey
Loading...