Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 Oct 2022 · 1 min read

तेरा एहसास

ज़िंदगी कैक्टस हो जितनी भी।
तेरा एहसास फूल जैसा है ।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
Tag: शेर
13 Likes · 151 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr fauzia Naseem shad
View all
You may also like:
Milo kbhi fursat se,
Milo kbhi fursat se,
Sakshi Tripathi
ग़ज़ल सगीर
ग़ज़ल सगीर
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
कुछ तेज हवाएं है, कुछ बर्फानी गलन!
कुछ तेज हवाएं है, कुछ बर्फानी गलन!
Bodhisatva kastooriya
रात भी तन्हाई भरी काटना ऐ मेरे दोस्त,
रात भी तन्हाई भरी काटना ऐ मेरे दोस्त,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
मेला एक आस दिलों🫀का🏇👭
मेला एक आस दिलों🫀का🏇👭
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
मन की बुलंद
मन की बुलंद
Anamika Tiwari 'annpurna '
गणतंत्र
गणतंत्र
लक्ष्मी सिंह
कभी तो ख्वाब में आ जाओ सूकून बन के....
कभी तो ख्वाब में आ जाओ सूकून बन के....
shabina. Naaz
दिल ये तो जानता हैं गुनाहगार कौन हैं,
दिल ये तो जानता हैं गुनाहगार कौन हैं,
Vishal babu (vishu)
ऐसे जीना जिंदगी,
ऐसे जीना जिंदगी,
sushil sarna
होली के रंग
होली के रंग
Sandhya Chaturvedi(काव्यसंध्या)
2855.*पूर्णिका*
2855.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
,,,,,,,,,,?
,,,,,,,,,,?
शेखर सिंह
ग़ज़ल/नज़्म - मेरे महबूब के दीदार में बहार बहुत हैं
ग़ज़ल/नज़्म - मेरे महबूब के दीदार में बहार बहुत हैं
अनिल कुमार
दिल आइना
दिल आइना
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
भजलो राम राम राम सिया राम राम राम प्यारे राम
भजलो राम राम राम सिया राम राम राम प्यारे राम
Satyaveer vaishnav
*भारत माता के लिए , अनगिन हुए शहीद* (कुंडलिया)
*भारत माता के लिए , अनगिन हुए शहीद* (कुंडलिया)
Ravi Prakash
राह तक रहे हैं नयना
राह तक रहे हैं नयना
Ashwani Kumar Jaiswal
हंसना - रोना
हंसना - रोना
manjula chauhan
🙅क्लीन होगा
🙅क्लीन होगा "नीट"🙅
*प्रणय प्रभात*
बारह ज्योतिर्लिंग
बारह ज्योतिर्लिंग
सत्य कुमार प्रेमी
घर जला दिए किसी की बस्तियां जली
घर जला दिए किसी की बस्तियां जली
कृष्णकांत गुर्जर
सच तो यही हैं।
सच तो यही हैं।
Neeraj Agarwal
"वक्त"
Dr. Kishan tandon kranti
सागर से दूरी धरो,
सागर से दूरी धरो,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
हज़ारों साल
हज़ारों साल
DR. Kaushal Kishor Shrivastava
*अहंकार*
*अहंकार*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
लू, तपिश, स्वेदों का व्यापार करता है
लू, तपिश, स्वेदों का व्यापार करता है
Anil Mishra Prahari
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
पौधरोपण
पौधरोपण
Dr. Pradeep Kumar Sharma
Loading...