Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
20 May 2023 · 1 min read

तुम भी 2000 के नोट की तरह निकले,

तुम भी 2000 के नोट की तरह निकले,

कीमती तो थे लेकिन टिकाऊ नहीं..💔

Vishal babu..✍️✍️

1 Like · 1 Comment · 513 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
हमें तो देखो उस अंधेरी रात का भी इंतजार होता है
हमें तो देखो उस अंधेरी रात का भी इंतजार होता है
VINOD CHAUHAN
शामें दर शाम गुजरती जा रहीं हैं।
शामें दर शाम गुजरती जा रहीं हैं।
शिव प्रताप लोधी
ठहर गया
ठहर गया
sushil sarna
वह कौन सा नगर है ?
वह कौन सा नगर है ?
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
Migraine Treatment- A Holistic Approach
Migraine Treatment- A Holistic Approach
Shyam Sundar Subramanian
रक्षा बंधन
रक्षा बंधन
बिमल तिवारी “आत्मबोध”
ये ज़िंदगी भी गरीबों को सताती है,
ये ज़िंदगी भी गरीबों को सताती है,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
हाथों ने पैरों से पूछा
हाथों ने पैरों से पूछा
Shubham Pandey (S P)
समय और मौसम सदा ही बदलते रहते हैं।इसलिए स्वयं को भी बदलने की
समय और मौसम सदा ही बदलते रहते हैं।इसलिए स्वयं को भी बदलने की
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
😢शर्मनाक😢
😢शर्मनाक😢
*प्रणय प्रभात*
'हिंदी'
'हिंदी'
पंकज कुमार कर्ण
चाहत 'तुम्हारा' नाम है, पर तुम्हें पाने की 'तमन्ना' मुझे हो
चाहत 'तुम्हारा' नाम है, पर तुम्हें पाने की 'तमन्ना' मुझे हो
Sukoon
"शीशा और रिश्ता बड़े ही नाजुक होते हैं
शेखर सिंह
How to Build a Healthy Relationship?
How to Build a Healthy Relationship?
Bindesh kumar jha
बन्दिगी
बन्दिगी
Monika Verma
हुनरमंद लोग तिरस्कृत क्यों
हुनरमंद लोग तिरस्कृत क्यों
Mahender Singh
"आशा"
Dr. Kishan tandon kranti
अपनों की जीत
अपनों की जीत
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
हमें प्यार और घृणा, दोनों ही असरदार तरीके से करना आना चाहिए!
हमें प्यार और घृणा, दोनों ही असरदार तरीके से करना आना चाहिए!
Dr MusafiR BaithA
प्यासी कली
प्यासी कली
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
मौन धृतराष्ट्र बन कर खड़े हो
मौन धृतराष्ट्र बन कर खड़े हो
DrLakshman Jha Parimal
समाज सुधारक
समाज सुधारक
Dr. Pradeep Kumar Sharma
*माता (कुंडलिया)*
*माता (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
आधुनिक हिन्दुस्तान
आधुनिक हिन्दुस्तान
SURYA PRAKASH SHARMA
3113.*पूर्णिका*
3113.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
किसी भी देश या राज्य के मुख्या को सदैव जनहितकारी और जनकल्याण
किसी भी देश या राज्य के मुख्या को सदैव जनहितकारी और जनकल्याण
डॉ.एल. सी. जैदिया 'जैदि'
घर सम्पदा भार रहे, रहना मिलकर सब।
घर सम्पदा भार रहे, रहना मिलकर सब।
Anil chobisa
दिल पर करती वार
दिल पर करती वार
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
दो जीवन
दो जीवन
Rituraj shivem verma
एक चतुर नार
एक चतुर नार
लक्ष्मी सिंह
Loading...