Oct 16, 2016 · 1 min read

तुम ना मिलते तो यू दिल घायल ना होता/मंदीप

तुम ना मिलते तो यू दिल घायल ना होता,
पा के दर्द तुम से मै इस तरह ना रोता।

जी रहे थे हम तो मौजे जिंदगी को,
इस दौर में तन्हाई का पता ना होता।

जाम महोबत ने ऐसा पिलाया,
आज अपनों में मै गैर ना होता।

जिंदगी अटक सी गई है अब,
अगर पीड़ तुम्हारी सहता ना होता।

आवाज ना आई “मंदीप”इस तबाही की
आज दिल में दर्द इस कदर ना होता।

मंदीपसाई

183 Views
You may also like:
जीवन
Mahendra Narayan
तोड़कर मुझे न देख
अरशद रसूल /Arshad Rasool
मैं बहती गंगा बन जाऊंगी।
Taj Mohammad
माखन चोर
N.ksahu0007@writer
*ओ भोलेनाथ जी* "अरदास"
Shashi kala vyas
सच्चा प्यार
Anamika Singh
मेरे पापा
789 Yashbardhan Raj
सागर बोला, सुन ज़रा
सूर्यकांत द्विवेदी
पिता की छाँव...
मनोज कर्ण
सम्मान करो एक दूजे के धर्म का ..
ओनिका सेतिया 'अनु '
तुम मेरे वो तुम हो...
Sapna K S
हे तात ! कहा तुम चले गए...
मनोज कर्ण
पापा को मैं पास में पाऊँ
Dr. Pratibha Mahi
गुरुजी!
Vishnu Prasad 'panchotiya'
कोई तो हद होगी।
Taj Mohammad
धुँध
Rekha Drolia
आह! 14 फरवरी को आई और 23 फरवरी को चली...
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
राम
Saraswati Bajpai
*!* अपनी यारी बेमिसाल *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
चल अकेला
Vikas Sharma'Shivaaya'
बदल कर टोपियां अपनी, कहीं भी पहुंच जाते हैं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
साल गिरह
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
शून्य से अनन्त
D.k Math
एहसासों का समन्दर लिए बैठा हूं।
Taj Mohammad
खंडहर हुई यादें
VINOD KUMAR CHAUHAN
You Have Denied Visiting Me In The Dreams
Manisha Manjari
बेटी का संदेश
Anamika Singh
🌺🌻🌷तुम मिलोगे मुझे यह वादा करो🌺🌻🌷
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
नर्सिंग दिवस पर नमन
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
खेसारी लाल बानी
Ranjeet Kumar
Loading...