Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 May 2024 · 1 min read

तुम्हे वक्त बदलना है,

तुम्हे वक्त बदलना है,
तो पहले वक्त को जीना सीखना होगा।

1 Like · 34 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बसंत
बसंत
Bodhisatva kastooriya
मतलब भरी दुनियां में जरा संभल कर रहिए,
मतलब भरी दुनियां में जरा संभल कर रहिए,
शेखर सिंह
फूल
फूल
Neeraj Agarwal
#यादें_बाक़ी
#यादें_बाक़ी
*प्रणय प्रभात*
"अक्सर"
Dr. Kishan tandon kranti
जब ज़रूरत के
जब ज़रूरत के
Dr fauzia Naseem shad
क्या सितारों को तका है - ग़ज़ल - संदीप ठाकुर
क्या सितारों को तका है - ग़ज़ल - संदीप ठाकुर
Sandeep Thakur
बेशर्मी
बेशर्मी
Sanjay ' शून्य'
जब कोई साथ नहीं जाएगा
जब कोई साथ नहीं जाएगा
KAJAL NAGAR
ग्रंथ
ग्रंथ
Tarkeshwari 'sudhi'
अपनी हीं क़ैद में हूँ
अपनी हीं क़ैद में हूँ
Shweta Soni
!!  श्री गणेशाय् नम्ः  !!
!! श्री गणेशाय् नम्ः !!
Lokesh Sharma
यक्ष प्रश्न
यक्ष प्रश्न
Shyam Sundar Subramanian
नया साल
नया साल
अरशद रसूल बदायूंनी
बाबा तेरा इस कदर उठाना ...
बाबा तेरा इस कदर उठाना ...
Sunil Suman
मैं हर चीज अच्छी बुरी लिख रहा हूॅं।
मैं हर चीज अच्छी बुरी लिख रहा हूॅं।
सत्य कुमार प्रेमी
3392⚘ *पूर्णिका* ⚘
3392⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
सुहागरात की परीक्षा
सुहागरात की परीक्षा
Dr. Pradeep Kumar Sharma
राख देह की पांव पसारे
राख देह की पांव पसारे
Suryakant Dwivedi
अच्छा लगने लगा है उसे
अच्छा लगने लगा है उसे
Vijay Nayak
*
*"रक्षाबन्धन"* *"काँच की चूड़ियाँ"*
Radhakishan R. Mundhra
तुम्हारा चश्मा
तुम्हारा चश्मा
Dr. Seema Varma
* हिन्दी को ही *
* हिन्दी को ही *
surenderpal vaidya
ਕੁਝ ਕਿਰਦਾਰ
ਕੁਝ ਕਿਰਦਾਰ
Surinder blackpen
Line.....!
Line.....!
Vicky Purohit
भय लगता है...
भय लगता है...
डॉ.सीमा अग्रवाल
तुम कभी यह चिंता मत करना कि हमारा साथ यहाँ कौन देगा कौन नहीं
तुम कभी यह चिंता मत करना कि हमारा साथ यहाँ कौन देगा कौन नहीं
Dr. Man Mohan Krishna
हे राम तुम्हारे आने से बन रही अयोध्या राजधानी।
हे राम तुम्हारे आने से बन रही अयोध्या राजधानी।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
*आओ फिर से याद करें हम, भारत के इतिहास को (हिंदी गजल)*
*आओ फिर से याद करें हम, भारत के इतिहास को (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
वक़्त वो सबसे ही जुदा होगा
वक़्त वो सबसे ही जुदा होगा
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
Loading...