Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 Apr 2023 · 1 min read

तीखा सूरज : उमेश शुक्ल के हाइकु

तीखा सूरज बरसा रहा आग
अनदेखी से विलुप्त हुए अनेक कूप तालाब
तंत्र सजाए तरक्की के ख्वाब

निकाय चुनाव दावतों का दौर
समर्थकों के नारों में गुम पीड़ाएं चहुंओर
विकास को मिलता नहीं ठौर

सच बोलना सबसे बड़ी खराबी
आसपास रहने वाले भी हो जाते तेजाबी
फुर्र सुकून, रिश्तों की बर्बादी

हरदिल अजीजों की बढ़ती आबादी
सरकारी विभागों में हाबी है धक्कामार परिपाटी
शिकायतें हाथ ले हलकान फरियादी

हर तरफ चुनाव का झुनझुना
कई को इंतजार जीत का बहाएं पसीना
समर्थक फरमाएं छेड़ो धुन नगीना

Language: Hindi
171 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
खुशियां
खुशियां
N manglam
---- विश्वगुरु ----
---- विश्वगुरु ----
सूरज राम आदित्य (Suraj Ram Aditya)
*चाल*
*चाल*
Harminder Kaur
तुझे नेकियों के मुँह से
तुझे नेकियों के मुँह से
Shweta Soni
नारी
नारी
Dr fauzia Naseem shad
अनुभव
अनुभव
Sanjay ' शून्य'
क्या सत्य है ?
क्या सत्य है ?
Buddha Prakash
2604.पूर्णिका
2604.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
वो ज़माने चले गए
वो ज़माने चले गए
Artist Sudhir Singh (सुधीरा)
शहीदों लाल सलाम
शहीदों लाल सलाम
नेताम आर सी
*करते सौदा देश का, सत्ता से बस प्यार (कुंडलिया)*
*करते सौदा देश का, सत्ता से बस प्यार (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
जीवन चलती साइकिल, बने तभी बैलेंस
जीवन चलती साइकिल, बने तभी बैलेंस
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
पिता की लाडली तो हर एक बेटी होती है, पर ससुर जी की लाडली होन
पिता की लाडली तो हर एक बेटी होती है, पर ससुर जी की लाडली होन
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
पिता
पिता
Mamta Rani
हमारे बिना तुम, जी नहीं सकोगे
हमारे बिना तुम, जी नहीं सकोगे
gurudeenverma198
पापा की गुड़िया
पापा की गुड़िया
Dr Parveen Thakur
अभी बाकी है
अभी बाकी है
Vandna Thakur
खोखला अहं
खोखला अहं
Madhavi Srivastava
हमारा हाल अब उस तौलिए की तरह है बिल्कुल
हमारा हाल अब उस तौलिए की तरह है बिल्कुल
Johnny Ahmed 'क़ैस'
Irritable Bowel Syndrome
Irritable Bowel Syndrome
Tushar Jagawat
कब तक यूँ आजमाएंगे हमसे कहो हुजूर
कब तक यूँ आजमाएंगे हमसे कहो हुजूर
VINOD CHAUHAN
मेरा कौन यहाँ 🙏
मेरा कौन यहाँ 🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
फितरत
फितरत
मनोज कर्ण
#सन्देश...
#सन्देश...
*प्रणय प्रभात*
*साम वेदना*
*साम वेदना*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
अब न वो आहें बची हैं ।
अब न वो आहें बची हैं ।
Arvind trivedi
इंतजार
इंतजार
Pratibha Pandey
अकेला बेटा........
अकेला बेटा........
पूर्वार्थ
21-हिंदी दोहा दिवस , विषय-  उँगली   / अँगुली
21-हिंदी दोहा दिवस , विषय- उँगली / अँगुली
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
पहले पता है चले की अपना कोन है....
पहले पता है चले की अपना कोन है....
कवि दीपक बवेजा
Loading...