Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
31 Mar 2024 · 1 min read

तारीफ किसकी करूं किसको बुरा कह दूं

तारीफ किसकी करूं किसको बुरा कह दूं
किसको थाम लूं मैं किसको हवा कह दूं

किस तरह परखू मैं जमाने को आखिर
किसको दर्द कहूं मैं किसको दवा कह दूं

✍️कवि दीपक बवेजा

65 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अगर, आप सही है
अगर, आप सही है
Bhupendra Rawat
आजकल बहुत से लोग ऐसे भी है
आजकल बहुत से लोग ऐसे भी है
Dr.Rashmi Mishra
जीवन कभी गति सा,कभी थमा सा...
जीवन कभी गति सा,कभी थमा सा...
Santosh Soni
कैसे कहें घनघोर तम है
कैसे कहें घनघोर तम है
Suryakant Dwivedi
*हिंदी भाषा में नुक्तों के प्रयोग का प्रश्न*
*हिंदी भाषा में नुक्तों के प्रयोग का प्रश्न*
Ravi Prakash
मुश्किल हालात हैं
मुश्किल हालात हैं
शेखर सिंह
ऐसा एक भारत बनाएं
ऐसा एक भारत बनाएं
नेताम आर सी
सैनिक के संग पूत भी हूँ !
सैनिक के संग पूत भी हूँ !
पाण्डेय चिदानन्द "चिद्रूप"
वोट डालने जाएंगे
वोट डालने जाएंगे
Dr. Reetesh Kumar Khare डॉ रीतेश कुमार खरे
कैसे बचेगी मानवता
कैसे बचेगी मानवता
Dr. Man Mohan Krishna
सावन के झूलें कहे, मन है बड़ा उदास ।
सावन के झूलें कहे, मन है बड़ा उदास ।
रेखा कापसे
वक्त
वक्त
Ramswaroop Dinkar
"सुप्रभात"
Yogendra Chaturwedi
धवल चाँदनी में हरित,
धवल चाँदनी में हरित,
sushil sarna
बहुत हैं!
बहुत हैं!
Srishty Bansal
इन्सानियत
इन्सानियत
Bodhisatva kastooriya
ग़़ज़ल
ग़़ज़ल
आर.एस. 'प्रीतम'
" मन मेरा डोले कभी-कभी "
Chunnu Lal Gupta
साथ मेरे था
साथ मेरे था
Dr fauzia Naseem shad
कर सत्य की खोज
कर सत्य की खोज
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
#लघुकथा-
#लघुकथा-
*Author प्रणय प्रभात*
“SUPER HERO(महानायक) OF FACEBOOK ”
“SUPER HERO(महानायक) OF FACEBOOK ”
DrLakshman Jha Parimal
औरत की हँसी
औरत की हँसी
Dr MusafiR BaithA
बड़ी कथाएँ ( लघुकथा संग्रह) समीक्षा
बड़ी कथाएँ ( लघुकथा संग्रह) समीक्षा
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
दिल से जाना
दिल से जाना
Sangeeta Beniwal
जीवन में दिन चार मिलें है,
जीवन में दिन चार मिलें है,
Satish Srijan
उपमान (दृृढ़पद ) छंद - 23 मात्रा , ( 13- 10) पदांत चौकल
उपमान (दृृढ़पद ) छंद - 23 मात्रा , ( 13- 10) पदांत चौकल
Subhash Singhai
मुझे फ़र्क नहीं दिखता, ख़ुदा और मोहब्बत में ।
मुझे फ़र्क नहीं दिखता, ख़ुदा और मोहब्बत में ।
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
तू नर नहीं नारायण है
तू नर नहीं नारायण है
Dr. Upasana Pandey
अहंकार का एटम
अहंकार का एटम
डॉ०छोटेलाल सिंह 'मनमीत'
Loading...