Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Oct 2023 · 1 min read

जिनके जानें से जाती थी जान भी मैंने उनका जाना भी देखा है अब

जिनके जानें से जाती थी जान भी मैंने उनका जाना भी देखा है अब मुझे कोई हादसा बड़ा नहीं लगता लेखक=विश्वेंद्र कुमार

1 Like · 177 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
शुभ धाम हूॅं।
शुभ धाम हूॅं।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
8-मेरे मुखड़े को सूरज चाँद से माँ तोल देती है
8-मेरे मुखड़े को सूरज चाँद से माँ तोल देती है
Ajay Kumar Vimal
मतलबी किरदार
मतलबी किरदार
Aman Kumar Holy
"बकरी"
Dr. Kishan tandon kranti
रसों में रस बनारस है !
रसों में रस बनारस है !
पाण्डेय चिदानन्द "चिद्रूप"
आप जरा सा समझिए साहब
आप जरा सा समझिए साहब
शेखर सिंह
3086.*पूर्णिका*
3086.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
तेरी सादगी को निहारने का दिल करता हैं ,
तेरी सादगी को निहारने का दिल करता हैं ,
Vishal babu (vishu)
The Earth Moves
The Earth Moves
Buddha Prakash
सफ़ेदे का पत्ता
सफ़ेदे का पत्ता
नन्दलाल सुथार "राही"
ईश्वर से बात
ईश्वर से बात
Rakesh Bahanwal
अदाकारियां
अदाकारियां
Surinder blackpen
सत्यम शिवम सुंदरम
सत्यम शिवम सुंदरम
Harminder Kaur
इंतजार करना है।
इंतजार करना है।
Anil chobisa
वो सबके साथ आ रही थी
वो सबके साथ आ रही थी
Keshav kishor Kumar
पहले आदमी 10 लाख में
पहले आदमी 10 लाख में
*Author प्रणय प्रभात*
द्रोपदी फिर.....
द्रोपदी फिर.....
Kavita Chouhan
बेटी हूँ माँ तेरी
बेटी हूँ माँ तेरी
Deepesh purohit
खुशनुमा – खुशनुमा सी लग रही है ज़मीं
खुशनुमा – खुशनुमा सी लग रही है ज़मीं
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
जिंदगी के तराने
जिंदगी के तराने
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
हिन्दी दोहा बिषय-ठसक
हिन्दी दोहा बिषय-ठसक
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
कब हमको ये मालूम है,कब तुमको ये अंदाज़ा है ।
कब हमको ये मालूम है,कब तुमको ये अंदाज़ा है ।
Phool gufran
कभी कभी प्रतीक्षा
कभी कभी प्रतीक्षा
पूर्वार्थ
*लटके-झटके इनके सौ-सौ, दामादों की मत पूछो (हास्य गीत)*
*लटके-झटके इनके सौ-सौ, दामादों की मत पूछो (हास्य गीत)*
Ravi Prakash
आचार संहिता
आचार संहिता
Seema gupta,Alwar
समस्त देशवाशियो को बाबा गुरु घासीदास जी की जन्म जयंती की हार
समस्त देशवाशियो को बाबा गुरु घासीदास जी की जन्म जयंती की हार
Ranjeet kumar patre
Tum makhmal me palte ho ,
Tum makhmal me palte ho ,
Sakshi Tripathi
बॉलीवुड का क्रैज़ी कमबैक रहा है यह साल - आलेख
बॉलीवुड का क्रैज़ी कमबैक रहा है यह साल - आलेख
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
* प्रभु राम के *
* प्रभु राम के *
surenderpal vaidya
जन जन फिर से तैयार खड़ा कर रहा राम की पहुनाई।
जन जन फिर से तैयार खड़ा कर रहा राम की पहुनाई।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
Loading...