Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 May 2023 · 1 min read

जाने किस कातिल की नज़र में हूँ

मिट्टी का
जिस्म ले के
पानी के घर में हूँ
.
.
.

मंज़िल मौत है
और मैं
.
.
.
सफर में हूँ
.
.
.
होगा कत्ल मेरा
मालूम है

लेकिन
खबर नहीं

किस कातिल
की नज़र में हूँ

252 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
ज़िंदगी के मर्म
ज़िंदगी के मर्म
Shyam Sundar Subramanian
अधूरा ज्ञान
अधूरा ज्ञान
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
शुभ् कामना मंगलकामनाएं
शुभ् कामना मंगलकामनाएं
Mahender Singh
🌹ढ़ूढ़ती हूँ अक्सर🌹
🌹ढ़ूढ़ती हूँ अक्सर🌹
Dr Shweta sood
मंगल मूरत
मंगल मूरत
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
जग में उदाहरण
जग में उदाहरण
Dr fauzia Naseem shad
23/60.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/60.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
जय अन्नदाता
जय अन्नदाता
gurudeenverma198
नफ़्स
नफ़्स
निकेश कुमार ठाकुर
सच का सौदा
सच का सौदा
अरशद रसूल बदायूंनी
पापा
पापा
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
Forget and Forgive Solve Many Problems
Forget and Forgive Solve Many Problems
PRATIBHA ARYA (प्रतिभा आर्य )
जो सुनना चाहता है
जो सुनना चाहता है
Yogendra Chaturwedi
हमारी योग्यता पर सवाल क्यो १
हमारी योग्यता पर सवाल क्यो १
भरत कुमार सोलंकी
देश हमारा भारत प्यारा
देश हमारा भारत प्यारा
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
तुम मुझे यूँ ही याद रखना
तुम मुझे यूँ ही याद रखना
Bhupendra Rawat
हिंदी का आनंद लीजिए __
हिंदी का आनंद लीजिए __
Manu Vashistha
"तलाश"
Dr. Kishan tandon kranti
*स्वतंत्रता सेनानी स्वर्गीय श्री राम कुमार बजाज*
*स्वतंत्रता सेनानी स्वर्गीय श्री राम कुमार बजाज*
Ravi Prakash
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बीता समय अतीत अब,
बीता समय अतीत अब,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
अपनों के बीच रहकर
अपनों के बीच रहकर
पूर्वार्थ
■ इस बार 59 दिन का सावन
■ इस बार 59 दिन का सावन
*प्रणय प्रभात*
पुष्पों का पाषाण पर,
पुष्पों का पाषाण पर,
sushil sarna
पत्थर तोड़ती औरत!
पत्थर तोड़ती औरत!
कविता झा ‘गीत’
जरूरी तो नहीं - हरवंश हृदय
जरूरी तो नहीं - हरवंश हृदय
हरवंश हृदय
अच्छा होगा
अच्छा होगा
Madhuyanka Raj
कभी कभी
कभी कभी
Shweta Soni
आचार्य शुक्ल के उच्च काव्य-लक्षण
आचार्य शुक्ल के उच्च काव्य-लक्षण
कवि रमेशराज
आजादी की कहानी
आजादी की कहानी
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
Loading...