Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Aug 2023 · 1 min read

जवान वो थी तो नादान हम भी नहीं थे,

जवान वो थी तो नादान हम भी नहीं थे,
होशियार वो थी तो बुड़बक हम भी नहीं थे ।
अगर वो महलों की रानी थी,
तो हम भी सड़कों का भिखारी नहीं था।।
बस अंतर इतना था कि वह बर्गर बीजा वाली थी,
और हम लाई पकौड़ी वाले थे।।।
🤓🤓🤓

@जय लगन कुमार हैप्पी
बेतिया, बिहार।

345 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
वोट की राजनीति
वोट की राजनीति
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
मेरा लड्डू गोपाल
मेरा लड्डू गोपाल
MEENU SHARMA
ओवर पजेसिव :समाधान क्या है ?
ओवर पजेसिव :समाधान क्या है ?
Dr fauzia Naseem shad
ख्वाब
ख्वाब
Dinesh Kumar Gangwar
ना सातवें आसमान तक
ना सातवें आसमान तक
Vivek Mishra
Jo Apna Nahin 💔💔
Jo Apna Nahin 💔💔
Yash mehra
भ्रूणहत्या
भ्रूणहत्या
Neeraj Agarwal
भूख
भूख
नाथ सोनांचली
दिनाक़ 03/05/2024
दिनाक़ 03/05/2024
Satyaveer vaishnav
3459🌷 *पूर्णिका* 🌷
3459🌷 *पूर्णिका* 🌷
Dr.Khedu Bharti
चलो चलें बौद्ध धम्म में।
चलो चलें बौद्ध धम्म में।
Buddha Prakash
मैंने खुद को जाना, सुना, समझा बहुत है
मैंने खुद को जाना, सुना, समझा बहुत है
सिद्धार्थ गोरखपुरी
ग़ज़ल (गुलों से ले आना महक तुम चुरा कर
ग़ज़ल (गुलों से ले आना महक तुम चुरा कर
डॉक्टर रागिनी
सारे गुनाहगार खुले घूम रहे हैं
सारे गुनाहगार खुले घूम रहे हैं
DR. Kaushal Kishor Shrivastava
एहसास
एहसास
भरत कुमार सोलंकी
"संवाद"
Dr. Kishan tandon kranti
मैं अपने सारे फ्रेंड्स सर्कल से कहना चाहूँगी...,
मैं अपने सारे फ्रेंड्स सर्कल से कहना चाहूँगी...,
Priya princess panwar
अमरत्व
अमरत्व
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
जो लोग ये कहते हैं कि सारे काम सरकार नहीं कर सकती, कुछ कार्य
जो लोग ये कहते हैं कि सारे काम सरकार नहीं कर सकती, कुछ कार्य
Dr. Man Mohan Krishna
मीठे बोल या मीठा जहर
मीठे बोल या मीठा जहर
विजय कुमार अग्रवाल
मॉडर्न किसान
मॉडर्न किसान
Dr. Pradeep Kumar Sharma
1-कैसे विष मज़हब का फैला, मानवता का ह्रास हुआ
1-कैसे विष मज़हब का फैला, मानवता का ह्रास हुआ
Ajay Kumar Vimal
चंद्रयान विश्व कीर्तिमान
चंद्रयान विश्व कीर्तिमान
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
अभी-अभी
अभी-अभी
*प्रणय प्रभात*
बदनाम से
बदनाम से
विजय कुमार नामदेव
*
*"मुस्कराहट"*
Shashi kala vyas
क्या कभी तुमने कहा
क्या कभी तुमने कहा
gurudeenverma198
How to Build a Healthy Relationship?
How to Build a Healthy Relationship?
Bindesh kumar jha
ये सर्द रात
ये सर्द रात
Surinder blackpen
युगों की नींद से झकझोर कर जगा दो मुझे
युगों की नींद से झकझोर कर जगा दो मुझे
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
Loading...