Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 Jul 2023 · 1 min read

जब आसमान पर बादल हों,

जब आसमान पर बादल हों,
रिमझिम बूँदों की फुहार पड़े,
मन हरा हरा कर लेना तुम,
बस,याद ज़रा कर लेना तुम।

1 Like · 151 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Shweta Soni
View all
You may also like:
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
भूत अउर सोखा
भूत अउर सोखा
आकाश महेशपुरी
जो घर जारै आपनो
जो घर जारै आपनो
Dr MusafiR BaithA
जब सावन का मौसम आता
जब सावन का मौसम आता
लक्ष्मी सिंह
याद आती है हर बात
याद आती है हर बात
Surinder blackpen
कली को खिलने दो
कली को खिलने दो
Ghanshyam Poddar
//एक सवाल//
//एक सवाल//
निरंजन कुमार तिलक 'अंकुर'
*मौन की चुभन*
*मौन की चुभन*
Krishna Manshi
भारत के बीर सपूत
भारत के बीर सपूत
Dinesh Kumar Gangwar
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
कितनी ही गहरी वेदना क्यूं न हो
कितनी ही गहरी वेदना क्यूं न हो
Pramila sultan
यहाँ प्रयाग न गंगासागर,
यहाँ प्रयाग न गंगासागर,
Anil chobisa
संगीत
संगीत
Vedha Singh
किस्सा मशहूर है जमाने में मेरा
किस्सा मशहूर है जमाने में मेरा
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
किताबों से ज्ञान मिलता है
किताबों से ज्ञान मिलता है
Bhupendra Rawat
खुश-आमदीद आपका, वल्लाह हुई दीद
खुश-आमदीद आपका, वल्लाह हुई दीद
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
आदमी का मानसिक तनाव  इग्नोर किया जाता हैं और उसको ज्यादा तवज
आदमी का मानसिक तनाव इग्नोर किया जाता हैं और उसको ज्यादा तवज
पूर्वार्थ
ज़िन्दगी में अच्छे लोगों की तलाश मत करो,
ज़िन्दगी में अच्छे लोगों की तलाश मत करो,
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
कभी बेवजह तुझे कभी बेवजह मुझे
कभी बेवजह तुझे कभी बेवजह मुझे
Basant Bhagawan Roy
धरा और इसमें हरियाली
धरा और इसमें हरियाली
Buddha Prakash
होली आने वाली है
होली आने वाली है
नेताम आर सी
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
न किसी से कुछ कहूँ
न किसी से कुछ कहूँ
ruby kumari
दौड़ते ही जा रहे सब हर तरफ
दौड़ते ही जा रहे सब हर तरफ
Dhirendra Singh
हर लम्हे में
हर लम्हे में
Sangeeta Beniwal
हमको नहीं गम कुछ भी
हमको नहीं गम कुछ भी
gurudeenverma198
मेरे अल्फ़ाज़
मेरे अल्फ़ाज़
Dr fauzia Naseem shad
"नवाखानी"
Dr. Kishan tandon kranti
इस क़दर उलझा हुआ हूं अपनी तकदीर से,
इस क़दर उलझा हुआ हूं अपनी तकदीर से,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
अहिल्या
अहिल्या
अनूप अम्बर
Loading...