Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 May 2024 · 1 min read

जनता

जनता से जो मांगते, वोट नोट का प्यार |
प्यारी जनता कर रही, जी भर कर दुत्कार |
जी भर कर दुत्कार, वोट की खातिर रोते |
जाति जाति में बाँट,नफरती भाषण होते|
कहें प्रेम कविराय, घुना गेहूं है छनता|
वादों का व्यापार,झूठ सच छाने जनता |

वादे नेता कर रहे, मची चुनावी होड़ |
राजनीति की होड़ में, जन प्रतिनिधि हैं तोड़ |
जनप्रतिनिधि हैं तोड़,हो रही जोरम जोरी |
जनता ठगती जाए,हो रहे मुद्दे चोरी |
कहें प्रेम कविराय, सभी शतरंजी प्यादे |
चले दांव पर दांव,चुन रही जनता वादे |
डा प्रवीण कुमार श्रीवास्तव प्रेम
लखनऊ

1 Like · 36 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
View all
You may also like:
2. काश कभी ऐसा हो पाता
2. काश कभी ऐसा हो पाता
Rajeev Dutta
सुकून ए दिल का वह मंज़र नहीं होने देते। जिसकी ख्वाहिश है, मयस्सर नहीं होने देते।।
सुकून ए दिल का वह मंज़र नहीं होने देते। जिसकी ख्वाहिश है, मयस्सर नहीं होने देते।।
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
जुदाई
जुदाई
Dr. Seema Varma
ग़ज़ल _ खुदगर्जियाँ हावी हुईं ।
ग़ज़ल _ खुदगर्जियाँ हावी हुईं ।
Neelofar Khan
विद्यार्थी जीवन
विद्यार्थी जीवन
Santosh kumar Miri
अच्छी बात है
अच्छी बात है
Ashwani Kumar Jaiswal
हरे कृष्णा !
हरे कृष्णा !
MUSKAAN YADAV
*चिंता चिता समान है*
*चिंता चिता समान है*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
फर्ज़ अदायगी (मार्मिक कहानी)
फर्ज़ अदायगी (मार्मिक कहानी)
Dr. Kishan Karigar
मैं अकेला महसूस करता हूं
मैं अकेला महसूस करता हूं
पूर्वार्थ
जब किसी बुजुर्ग इंसान को करीब से देख महसूस करो तो पता चलता ह
जब किसी बुजुर्ग इंसान को करीब से देख महसूस करो तो पता चलता ह
Shashi kala vyas
*ये साँसों की क्रियाऍं हैं:सात शेर*
*ये साँसों की क्रियाऍं हैं:सात शेर*
Ravi Prakash
काल के काल से - रक्षक हों महाकाल
काल के काल से - रक्षक हों महाकाल
Atul "Krishn"
नेता
नेता
Raju Gajbhiye
खोया है हरेक इंसान
खोया है हरेक इंसान
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
सुविचार
सुविचार
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
शुभ प्रभात मित्रो !
शुभ प्रभात मित्रो !
Mahesh Jain 'Jyoti'
World stroke day
World stroke day
Tushar Jagawat
ग़म बांटने गए थे उनसे दिल के,
ग़म बांटने गए थे उनसे दिल के,
ओसमणी साहू 'ओश'
"" *भारत* ""
सुनीलानंद महंत
जिनका हम जिक्र तक नहीं करते हैं
जिनका हम जिक्र तक नहीं करते हैं
ruby kumari
ये उदास शाम
ये उदास शाम
shabina. Naaz
राजनीति
राजनीति
Bodhisatva kastooriya
सहारा
सहारा
Neeraj Agarwal
#दिनांक:-19/4/2024
#दिनांक:-19/4/2024
Pratibha Pandey
बदल जाएगा तू इस हद तलक़ मैंने न सोचा था
बदल जाएगा तू इस हद तलक़ मैंने न सोचा था
Johnny Ahmed 'क़ैस'
जो कुछ भी है आज है,
जो कुछ भी है आज है,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
#drArunKumarshastri
#drArunKumarshastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बुद्ध मैत्री है, ज्ञान के खोजी है।
बुद्ध मैत्री है, ज्ञान के खोजी है।
Buddha Prakash
ऋतुराज
ऋतुराज
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
Loading...