Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Feb 2023 · 1 min read

जनगणना मे मैथिली / Maithili in Population Census / जय मैथिली

जनगणना मे मैथिली ( जय मैथिली )

अपन मातृभाषा अपने बचाउ
जनगणना मे मैथिली लिखाउ ।।

#मिथिला_बिहारी_नगरपालिका
#मिथिलेश्वर_मौवाही – ३
धनुषा, नेपाल
#जनकपुरधाम

#जनगणना_मे_मैथिली
#maithili_in_population_census
#विनीत_ठाकुर #binitthakur
#populationcensus

Language: Maithili
1 Like · 320 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
जब हम सोचते हैं कि हमने कुछ सार्थक किया है तो हमें खुद पर गर
जब हम सोचते हैं कि हमने कुछ सार्थक किया है तो हमें खुद पर गर
ललकार भारद्वाज
..........लहजा........
..........लहजा........
Naushaba Suriya
प्यार दर्पण के जैसे सजाना सनम,
प्यार दर्पण के जैसे सजाना सनम,
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
अब वो मुलाकात कहाँ
अब वो मुलाकात कहाँ
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
क्या होगा कोई ऐसा जहां, माया ने रचा ना हो खेल जहां,
क्या होगा कोई ऐसा जहां, माया ने रचा ना हो खेल जहां,
Manisha Manjari
क्या मणिपुर बंगाल क्या, क्या ही राजस्थान ?
क्या मणिपुर बंगाल क्या, क्या ही राजस्थान ?
Arvind trivedi
*लफ्ज*
*लफ्ज*
Kumar Vikrant
2729.*पूर्णिका*
2729.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
सयाना
सयाना
DR ARUN KUMAR SHASTRI
सितारों से सजी संवरी इक आशियाना खरीदा है,
सितारों से सजी संवरी इक आशियाना खरीदा है,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
कविता
कविता
Shiva Awasthi
रिश्ते
रिश्ते
Ram Krishan Rastogi
विषय :- रक्त रंजित मानवीयता रस-वीभत्स रस विधा-मधुमालती छंद आधारित गीत मापनी-2212 , 2212
विषय :- रक्त रंजित मानवीयता रस-वीभत्स रस विधा-मधुमालती छंद आधारित गीत मापनी-2212 , 2212
Neelam Sharma
किसी ने कहा- आरे वहां क्या बात है! लड़की हो तो ऐसी, दिल जीत
किसी ने कहा- आरे वहां क्या बात है! लड़की हो तो ऐसी, दिल जीत
जय लगन कुमार हैप्पी
झुकना होगा
झुकना होगा
भरत कुमार सोलंकी
मेरा एक छोटा सा सपना है ।
मेरा एक छोटा सा सपना है ।
PRATIK JANGID
खुश रहने की कोशिश में
खुश रहने की कोशिश में
Surinder blackpen
बिना अश्क रोने की होती नहीं खबर
बिना अश्क रोने की होती नहीं खबर
sushil sarna
सफर में चाहते खुशियॉं, तो ले सामान कम निकलो(मुक्तक)
सफर में चाहते खुशियॉं, तो ले सामान कम निकलो(मुक्तक)
Ravi Prakash
अगर आप सही हैं, तो आपके साथ सही ही होगा।
अगर आप सही हैं, तो आपके साथ सही ही होगा।
Dr. Pradeep Kumar Sharma
लिखते रहिए ...
लिखते रहिए ...
Dheerja Sharma
जाड़ा
जाड़ा
नूरफातिमा खातून नूरी
हीर और रांझा की हम तस्वीर सी बन जाएंगे
हीर और रांझा की हम तस्वीर सी बन जाएंगे
Monika Arora
देखिए खूबसूरत हुई भोर है।
देखिए खूबसूरत हुई भोर है।
surenderpal vaidya
भटकता पंछी !
भटकता पंछी !
Niharika Verma
"ऐ मेरे मालिक"
Dr. Kishan tandon kranti
"राहे-मुहब्बत" ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
55…Munsarah musaddas matvii maksuuf
55…Munsarah musaddas matvii maksuuf
sushil yadav
सजि गेल अयोध्या धाम
सजि गेल अयोध्या धाम
मनोज कर्ण
..
..
*प्रणय प्रभात*
Loading...