Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Mar 2024 · 1 min read

*चुनावी कुंडलिया*

चुनावी कुंडलिया
🍂🍂🍂🍂🍃
जारी जिंदाबाद है, जारी मुर्दाबाद (कुंडलिया)
—————————————
जारी जिंदाबाद है, जारी मुर्दाबाद
नेता भाषणवीर हैं, चमचे सबके पास
चमचे सबके पास, चुनावी क्षण गर्माए
गली-गली में वोट, मॉंगने नेता आए
कहते रवि कविराय, झूठ की महिमा भारी
सच बेचारा मौन, झूठ के चर्चे जारी
———————————-
रचयिता: रवि प्रकाश
बाजार सर्राफा, रामपुर, उत्तर प्रदेश
मोबाइल 99976 15451

54 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Ravi Prakash
View all
You may also like:
बाल वीर दिवस
बाल वीर दिवस
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
नव उल्लास होरी में.....!
नव उल्लास होरी में.....!
Awadhesh Kumar Singh
प्रिय विरह
प्रिय विरह
लक्ष्मी सिंह
स्वार्थ सिद्धि उन्मुक्त
स्वार्थ सिद्धि उन्मुक्त
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
हवाओं के भरोसे नहीं उड़ना तुम कभी,
हवाओं के भरोसे नहीं उड़ना तुम कभी,
Neelam Sharma
तू
तू
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
*नई दुकान कहॉं चलती है (हिंदी गजल)*
*नई दुकान कहॉं चलती है (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
दोहा
दोहा
गुमनाम 'बाबा'
यक्ष प्रश्न
यक्ष प्रश्न
Shyam Sundar Subramanian
3310.⚘ *पूर्णिका* ⚘
3310.⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
“गुरु और शिष्य”
“गुरु और शिष्य”
DrLakshman Jha Parimal
जब हर एक दिन को शुभ समझोगे
जब हर एक दिन को शुभ समझोगे
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
वक्त
वक्त
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
उस जैसा मोती पूरे समन्दर में नही है
उस जैसा मोती पूरे समन्दर में नही है
शेखर सिंह
सुकून ए दिल का वह मंज़र नहीं होने देते। जिसकी ख्वाहिश है, मयस्सर नहीं होने देते।।
सुकून ए दिल का वह मंज़र नहीं होने देते। जिसकी ख्वाहिश है, मयस्सर नहीं होने देते।।
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
डर के आगे जीत।
डर के आगे जीत।
Anil Mishra Prahari
Janeu-less writer / Poem by Musafir Baitha
Janeu-less writer / Poem by Musafir Baitha
Dr MusafiR BaithA
--जो फेमस होता है, वो रूखसत हो जाता है --
--जो फेमस होता है, वो रूखसत हो जाता है --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
नयी - नयी लत लगी है तेरी
नयी - नयी लत लगी है तेरी
सिद्धार्थ गोरखपुरी
कोशिश बहुत करता हूं कि दर्द ना छलके
कोशिश बहुत करता हूं कि दर्द ना छलके
इंजी. संजय श्रीवास्तव
ममता
ममता
Dr. Pradeep Kumar Sharma
साहित्यकार ओमप्रकाश वाल्मीकि का परिचय।
साहित्यकार ओमप्रकाश वाल्मीकि का परिचय।
Dr. Narendra Valmiki
नव्य द्वीप का रहने वाला
नव्य द्वीप का रहने वाला
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
मदमती
मदमती
Pratibha Pandey
कभी कभी
कभी कभी
surenderpal vaidya
🫴झन जाबे🫴
🫴झन जाबे🫴
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
Insaan badal jata hai
Insaan badal jata hai
Aisha Mohan
दुनिया तेज़ चली या मुझमे ही कम रफ़्तार थी,
दुनिया तेज़ चली या मुझमे ही कम रफ़्तार थी,
गुप्तरत्न
" हर वर्ग की चुनावी चर्चा “
Dr Meenu Poonia
ख़ुद के प्रति कुछ कर्तव्य होने चाहिए
ख़ुद के प्रति कुछ कर्तव्य होने चाहिए
Sonam Puneet Dubey
Loading...