Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Sep 2022 · 1 min read

चालीसा

सुनी सुनावत बनी एक बात
पैसा पर बा प्यार बेचात
जेकरा पास बा ढेर मनी
ओकरा न बा लड़की के कमी
सुनहु के न मिलत बा सच्चा प्यार
एगो लड़की के बा चार गो यार
जब तू पुछब करब तंग
कर दी तोहर देहल सिमवे बंद
फेर कोनो नया खोजाई
ओकरा न तनको तहरा ला बुझाई
आज के लड़की बाडन सन रेल
प्यार के ई ता भुझेल सन खेल
जहिया आई सन 95
कहिअसन नया मॉडल अंदे
हो गएल बा सबके दासा
आधा कपड़ा पूरा नासा
बाप माता री रहता हरान
काट तारी सन ई लड़की कान
रोज रोज दिल टूटता बा
मार्केट में नासा के गोली खूब बिकत बा
ए ही से करतानी फार्मेसी के पढ़ाई
दिल के बनाए हम दवाई
मोदी जी लगाई कोनो जुगाड
भेज दी भर्ती करदी उपकार
केहू फेल होखे न सत्र
मोदी जी बना दी पहचान पत्र

Language: Hindi
241 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
रामलला के विग्रह की जब, भव में प्राण प्रतिष्ठा होगी।
रामलला के विग्रह की जब, भव में प्राण प्रतिष्ठा होगी।
डॉ.सीमा अग्रवाल
जिसे तुम ढूंढती हो
जिसे तुम ढूंढती हो
Basant Bhagawan Roy
कँहरवा
कँहरवा
प्रीतम श्रावस्तवी
बेदर्दी मौसम दर्द क्या जाने ?
बेदर्दी मौसम दर्द क्या जाने ?
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
महोब्बत करो तो सावले रंग से करना गुरु
महोब्बत करो तो सावले रंग से करना गुरु
शेखर सिंह
जब भी किसी कार्य को पूर्ण समर्पण के साथ करने के बाद भी असफलत
जब भी किसी कार्य को पूर्ण समर्पण के साथ करने के बाद भी असफलत
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
#सम_सामयिक
#सम_सामयिक
*Author प्रणय प्रभात*
*सीता नवमी*
*सीता नवमी*
Shashi kala vyas
जग के जीवनदाता के प्रति
जग के जीवनदाता के प्रति
महेश चन्द्र त्रिपाठी
हाँ मैं किन्नर हूँ…
हाँ मैं किन्नर हूँ…
Anand Kumar
होली
होली
Neelam Sharma
*तजकिरातुल वाकियात* (पुस्तक समीक्षा )
*तजकिरातुल वाकियात* (पुस्तक समीक्षा )
Ravi Prakash
अंतरराष्ट्रीय श्रमिक दिवस
अंतरराष्ट्रीय श्रमिक दिवस
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
चाहिए
चाहिए
Punam Pande
समय की कविता
समय की कविता
Vansh Agarwal
जिज्ञासा
जिज्ञासा
Dr. Harvinder Singh Bakshi
"हालात"
Dr. Kishan tandon kranti
छह घण्टे भी पढ़ नहीं,
छह घण्टे भी पढ़ नहीं,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
गुरु के पद पंकज की पनही
गुरु के पद पंकज की पनही
Sushil Pandey
फ़ितरत
फ़ितरत
Ahtesham Ahmad
किसी और से इश्क़ दुबारा नहीं होगा
किसी और से इश्क़ दुबारा नहीं होगा
Madhuyanka Raj
इस बुझी हुई राख में तमाम राज बाकी है
इस बुझी हुई राख में तमाम राज बाकी है
कवि दीपक बवेजा
"अल्फाज दिल के "
Yogendra Chaturwedi
सुनो . . जाना
सुनो . . जाना
shabina. Naaz
दरवाज़े
दरवाज़े
Bodhisatva kastooriya
जिस चीज को किसी भी मूल्य पर बदला नहीं जा सकता है,तो उसको सहन
जिस चीज को किसी भी मूल्य पर बदला नहीं जा सकता है,तो उसको सहन
Paras Nath Jha
जिसने अपने जीवन में दर्द नहीं झेले उसने अपने जीवन में सुख भी
जिसने अपने जीवन में दर्द नहीं झेले उसने अपने जीवन में सुख भी
Rj Anand Prajapati
केहरि बनकर दहाड़ें
केहरि बनकर दहाड़ें
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
इंद्रधनुषी प्रेम
इंद्रधनुषी प्रेम
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
अन्तर्मन की विषम वेदना
अन्तर्मन की विषम वेदना
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
Loading...