Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
20 Jan 2023 · 1 min read

चार पैसे भी नही….

चार पैसे भी नही है,पास अपने क्या करें?
टूट कर बिखरे पड़े सब, आस सपने क्या करें
शेष दिल में कुछ कहीं पे, कर गुजरने का जूनुं,
ले चला हमको जगाकर, खास करने क्या करें?
–“प्यासा”

Language: Hindi
1 Like · 99 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
देव दीपावली
देव दीपावली
Vedha Singh
समय संवाद को लिखकर कभी बदला नहीं करता
समय संवाद को लिखकर कभी बदला नहीं करता
Shweta Soni
--पागल खाना ?--
--पागल खाना ?--
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
चुना था हमने जिसे देश के विकास खातिर
चुना था हमने जिसे देश के विकास खातिर
Manoj Mahato
वीरवर (कारगिल विजय उत्सव पर)
वीरवर (कारगिल विजय उत्सव पर)
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
भरोसा सब पर कीजिए
भरोसा सब पर कीजिए
Ranjeet kumar patre
नदी
नदी
Kumar Kalhans
**माटी जन्मभूमि की**
**माटी जन्मभूमि की**
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
#हृदय_दिवस_पर
#हृदय_दिवस_पर
*प्रणय प्रभात*
*मां*
*मां*
Dr. Priya Gupta
हृदय मे भरा अंधेरा घनघोर है,
हृदय मे भरा अंधेरा घनघोर है,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
ग्रन्थ
ग्रन्थ
Satish Srijan
3238.*पूर्णिका*
3238.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
" आशा "
Dr. Kishan tandon kranti
*अन्नप्राशन संस्कार और मुंडन संस्कार*
*अन्नप्राशन संस्कार और मुंडन संस्कार*
Ravi Prakash
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
एक अजीब कशिश तेरे रुखसार पर ।
एक अजीब कशिश तेरे रुखसार पर ।
Phool gufran
*मनुष्य जब मरता है तब उसका कमाया हुआ धन घर में ही रह जाता है
*मनुष्य जब मरता है तब उसका कमाया हुआ धन घर में ही रह जाता है
Shashi kala vyas
पर्यावरण
पर्यावरण
Madhavi Srivastava
प्यासी कली
प्यासी कली
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
प्रकृति में एक अदृश्य शक्ति कार्य कर रही है जो है तुम्हारी स
प्रकृति में एक अदृश्य शक्ति कार्य कर रही है जो है तुम्हारी स
Rj Anand Prajapati
* कभी दूरियों को *
* कभी दूरियों को *
surenderpal vaidya
हमारा सफ़र
हमारा सफ़र
Manju sagar
अधूरापन
अधूरापन
Rohit yadav
कैसे हो हम शामिल, तुम्हारी महफ़िल में
कैसे हो हम शामिल, तुम्हारी महफ़िल में
gurudeenverma198
🌸 मन संभल जाएगा 🌸
🌸 मन संभल जाएगा 🌸
पूर्वार्थ
*कोपल निकलने से पहले*
*कोपल निकलने से पहले*
Poonam Matia
- ଓଟେରି ସେଲଭା କୁମାର
- ଓଟେରି ସେଲଭା କୁମାର
Otteri Selvakumar
जिंदगी
जिंदगी
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
उस
उस"कृष्ण" को आवाज देने की ईक्षा होती है
Atul "Krishn"
Loading...