Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 Jul 2023 · 1 min read

चंदा मामा (बाल कविता)

चंदा मामा (बाल कविता)
____________________
चंद्रयान पर बैठ किसी दिन
काश ! चाँद पर जाऊँ

चंदा मामा से मिलकर
बातें करके फिर आऊँ

“चंदामामा मिले मुझे
सब चंद्रलोक दिखलाया”-
धरती पर जब लौटूँ
तो यह जग भर को बतलाऊँ।।
__________________________
रचयिता: रवि प्रकाश
बाजार सर्राफा,
रामपुर (उत्तर प्रदेश )
मोबाइल 99 97 61 5451

592 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Ravi Prakash
View all
You may also like:
शैलजा छंद
शैलजा छंद
Subhash Singhai
चाहने लग गए है लोग मुझको भी थोड़ा थोड़ा,
चाहने लग गए है लोग मुझको भी थोड़ा थोड़ा,
Vishal babu (vishu)
Aaj Aankhe nam Hain,🥹
Aaj Aankhe nam Hain,🥹
SPK Sachin Lodhi
*** कुछ पल अपनों के साथ....! ***
*** कुछ पल अपनों के साथ....! ***
VEDANTA PATEL
रखो कितनी भी शराफत वफा सादगी
रखो कितनी भी शराफत वफा सादगी
Mahesh Tiwari 'Ayan'
परेशानियों का सामना
परेशानियों का सामना
Paras Nath Jha
एक शे'र
एक शे'र
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
” सबको गीत सुनाना है “
” सबको गीत सुनाना है “
DrLakshman Jha Parimal
*आई ए एस फॅंस गए, मंत्री दसवीं फेल (हास्य कुंडलिया)*
*आई ए एस फॅंस गए, मंत्री दसवीं फेल (हास्य कुंडलिया)*
Ravi Prakash
♥️♥️दौर ए उल्फत ♥️♥️
♥️♥️दौर ए उल्फत ♥️♥️
umesh mehra
दिल तसल्ली को
दिल तसल्ली को
Dr fauzia Naseem shad
नारी शक्ति
नारी शक्ति
भरत कुमार सोलंकी
मै ज़ब 2017 मे फेसबुक पर आया आया था
मै ज़ब 2017 मे फेसबुक पर आया आया था
शेखर सिंह
एक तूही ममतामई
एक तूही ममतामई
Basant Bhagawan Roy
Love Night
Love Night
Bidyadhar Mantry
पारिजात छंद
पारिजात छंद
Neelam Sharma
भारत का सिपाही
भारत का सिपाही
आनन्द मिश्र
खुशियों का दौर गया , चाहतों का दौर गया
खुशियों का दौर गया , चाहतों का दौर गया
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
राह पर चलते चलते घटित हो गई एक अनहोनी, थम गए कदम,
राह पर चलते चलते घटित हो गई एक अनहोनी, थम गए कदम,
Sukoon
मकर संक्रांति
मकर संक्रांति
Suryakant Dwivedi
3334.⚘ *पूर्णिका* ⚘
3334.⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
बेज़ुबान जीवों पर
बेज़ुबान जीवों पर
*Author प्रणय प्रभात*
ला-फ़ानी
ला-फ़ानी
Shyam Sundar Subramanian
खून के रिश्ते
खून के रिश्ते
Dr. Pradeep Kumar Sharma
Keep yourself secret
Keep yourself secret
Sakshi Tripathi
"कागज"
Dr. Kishan tandon kranti
ज्ञान तो बहुत लिखा है किताबों में
ज्ञान तो बहुत लिखा है किताबों में
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
गाँधी हमेशा जिंदा है
गाँधी हमेशा जिंदा है
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
यादों के झरने
यादों के झरने
Sidhartha Mishra
Loading...