Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Jul 2016 · 1 min read

गीत :– दिल नें तुझे पाने के सपने संजोये हैं !!

गीत :– तुझे पाने के सपने संजोये हैं !!

तेरी याद मे हमने अपनी पलकें भिगोये हैं !
दिल ने तुझे पाने के सपने संजोये हैं !!

तरस रही आँखें तेरा दीदार पाने को ,
हर मुमकिन कोशिश किये तुझे मनाने को ,
इन आखों को अपने आँसू से धोये हैं !
दिल ने तुझे पाने के सपने संजोये हैं !१!

उठा तूफान दिल मे प्रीत निभाने के वास्ते ,
खोया था हमने आप को पाने के वास्ते ,
रुषबाई मे तन्हाई मे रातों को रोये हैं !
दिल ने तुझे पाने के सपने संजोये हैं !२!

ख्वाबों में रातों को बस तुम ही आते हो ,
हर वार मुझमें जीने की हसरत जगाते हो ,
सपनों के समन्दर से मोती पिरोये हैं !
दिल ने तुझे पाने के सपनें संजोये हैं !३!

एक पल का जीना हुआ मुश्किल जुदाई में !
अब देर कितनी देखना खुदा की खुदाई में ,
हसीन चाँदनी रात को ख्यालों में खोये हैं !
दिल ने तुझे पाने के सपनें संजोये हैं !४!

Anuj Tiwari “Indwar”

Language: Hindi
Tag: गीत
1 Like · 2 Comments · 710 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
न कुछ पानें की खुशी
न कुछ पानें की खुशी
Sonu sugandh
प्रतीक्षा
प्रतीक्षा
Kanchan Khanna
पलक-पाँवड़े
पलक-पाँवड़े
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
मुख्तशर सी जिन्दगी हैं,,,
मुख्तशर सी जिन्दगी हैं,,,
Taj Mohammad
"बूढ़ा" तो एक दिन
*Author प्रणय प्रभात*
Tumhe Pakar Jane Kya Kya Socha Tha
Tumhe Pakar Jane Kya Kya Socha Tha
Kumar lalit
माँ का अबोला / मुसाफ़िर बैठा
माँ का अबोला / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
श्रीराम गिलहरी संवाद अष्टपदी
श्रीराम गिलहरी संवाद अष्टपदी
SHAILESH MOHAN
हम भी तो चाहते हैं, तुम्हें देखना खुश
हम भी तो चाहते हैं, तुम्हें देखना खुश
gurudeenverma198
मेरा हर राज़ खोल सकता है
मेरा हर राज़ खोल सकता है
Shweta Soni
सफर की यादें
सफर की यादें
Pratibha Pandey
मां का प्यार पाने प्रभु धरा पर आते है♥️
मां का प्यार पाने प्रभु धरा पर आते है♥️
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
🙏
🙏
Neelam Sharma
*
*"शिक्षक"*
Shashi kala vyas
"हंस"
Dr. Kishan tandon kranti
संज्ञा
संज्ञा
पंकज कुमार कर्ण
कोरोना चालीसा
कोरोना चालीसा
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
वाह टमाटर !!
वाह टमाटर !!
Ahtesham Ahmad
हर बार नहीं मनाना चाहिए महबूब को
हर बार नहीं मनाना चाहिए महबूब को
शेखर सिंह
चंद एहसासात
चंद एहसासात
Shyam Sundar Subramanian
*छ्त्तीसगढ़ी गीत*
*छ्त्तीसगढ़ी गीत*
Dr.Khedu Bharti
महसूस करो
महसूस करो
Dr fauzia Naseem shad
फ़र्क़..
फ़र्क़..
Rekha Drolia
अब प्यार का मौसम न रहा
अब प्यार का मौसम न रहा
Shekhar Chandra Mitra
बसंत पंचमी
बसंत पंचमी
Neeraj Agarwal
लोग एक दूसरे को परखने में इतने व्यस्त हुए
लोग एक दूसरे को परखने में इतने व्यस्त हुए
ruby kumari
सत्य तत्व है जीवन का खोज
सत्य तत्व है जीवन का खोज
Buddha Prakash
कर्जमाफी
कर्जमाफी
Dr. Pradeep Kumar Sharma
आज के इस हाल के हम ही जिम्मेदार...
आज के इस हाल के हम ही जिम्मेदार...
डॉ.सीमा अग्रवाल
जननी
जननी
Mamta Rani
Loading...