Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 May 2024 · 1 min read

ग़ज़ल

वो करीने से काम लेता है ।
गिर रही चीज़ थाम लेता है ।

दोस्ती, प्यार या वफ़ा कहके,
आदमी इन्तिकाम लेता है ।

वक्त ठहरा नहीं कभी पीछे,
आगे बढ़कर म़काम लेता है ।

किससे डरता है,साँप से पूछो,
आदमी का ही नाम लेता है ।

एक छोटा गलत कदम तुमसे,
छीन ख़ुशियाँ तमाम लेता है ।

००००
— ईश्वर दयाल गोस्वामी ।

Language: Hindi
2 Likes · 45 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
झूम मस्ती में झूम
झूम मस्ती में झूम
gurudeenverma198
Pain of separation
Pain of separation
Bidyadhar Mantry
"हाउसवाइफ"
Dr. Kishan tandon kranti
"शाम भी गुजर गई"
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
वक्ता का है तकाजा जरा तुम सुनो।
वक्ता का है तकाजा जरा तुम सुनो।
कुंवर तुफान सिंह निकुम्भ
क्या....
क्या....
हिमांशु Kulshrestha
रखकर हाशिए पर हम हमेशा ही पढ़े गए
रखकर हाशिए पर हम हमेशा ही पढ़े गए
Shweta Soni
जीवन
जीवन
Neeraj Agarwal
'उड़ाओ नींद के बादल खिलाओ प्यार के गुलशन
'उड़ाओ नींद के बादल खिलाओ प्यार के गुलशन
आर.एस. 'प्रीतम'
"किसान"
Slok maurya "umang"
जब तक लहू बहे रग- रग में
जब तक लहू बहे रग- रग में
शायर देव मेहरानियां
17 जून 2019 को प्रथम वर्षगांठ पर रिया को हार्दिक बधाई
17 जून 2019 को प्रथम वर्षगांठ पर रिया को हार्दिक बधाई
Ravi Prakash
चूहा भी इसलिए मरता है
चूहा भी इसलिए मरता है
शेखर सिंह
बुढ़ादेव तुम्हें नमो-नमो
बुढ़ादेव तुम्हें नमो-नमो
नेताम आर सी
3543.💐 *पूर्णिका* 💐
3543.💐 *पूर्णिका* 💐
Dr.Khedu Bharti
असली अभागा कौन ???
असली अभागा कौन ???
VINOD CHAUHAN
खुशबू चमन की।
खुशबू चमन की।
Taj Mohammad
ज़िंदगी की चाहत में
ज़िंदगी की चाहत में
Dr fauzia Naseem shad
मित्रता मे बुझु ९०% प्रतिशत समानता जखन भेट गेल त बुझि मित्रत
मित्रता मे बुझु ९०% प्रतिशत समानता जखन भेट गेल त बुझि मित्रत
DrLakshman Jha Parimal
शहर की गर्मी में वो छांव याद आता है, मस्ती में बीता जहाँ बचप
शहर की गर्मी में वो छांव याद आता है, मस्ती में बीता जहाँ बचप
Shubham Pandey (S P)
आज मैया के दर्शन करेंगे
आज मैया के दर्शन करेंगे
Neeraj Mishra " नीर "
नव वर्ष की बधाई -2024
नव वर्ष की बधाई -2024
Raju Gajbhiye
छायावाद के गीतिकाव्य (पुस्तक समीक्षा)
छायावाद के गीतिकाव्य (पुस्तक समीक्षा)
गुमनाम 'बाबा'
सच
सच
Sanjeev Kumar mishra
लगे रहो भक्ति में बाबा श्याम बुलाएंगे【Bhajan】
लगे रहो भक्ति में बाबा श्याम बुलाएंगे【Bhajan】
Khaimsingh Saini
मैं कुछ इस तरह
मैं कुछ इस तरह
Dr Manju Saini
पूजा
पूजा
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
बसंत आने पर क्या
बसंत आने पर क्या
Surinder blackpen
पहला प्यार
पहला प्यार
Dipak Kumar "Girja"
■ जय नागलोक
■ जय नागलोक
*प्रणय प्रभात*
Loading...