Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
4 Dec 2023 · 1 min read

गजल

आपकी चाहत, मोहब्बत,उंसियत का है असर।
आपने हमको दिया उस अहमियत का है असर।
❤️
जल उठी शमआ मोहब्बत की तो दिल रोशन हुआ। तब्दीलियां मुझ में, तेरी ही शख्सियत का है असर।
❤️
हर तरफ नफरत की अब बाजार देखो गर्म है।
सिर्फ गंदे लोगों की यह ज़हनियत का है असर।
❤️
अब नहीं महफूज सड़कों पर बहन और बेटियां।
किस कदर इंसान में हैवानियत का है असर।
❤️
ऐशो इशरत के लिए,होकर बुजुर्गों से हम दूर।
बे अदब तिफ्ल ओ जवां है,तरबियत का है असर।
❤️
आजकल मगरूर जो अपनी अना में चूर है।
यह नई दौलत के मालिक, मिल्कियत का है असर।
❤️
दिल की इस बंजर ज़मीं पर प्यार का पौधा उगा।
कुछ नहीं यह सिर्फ तेरी खासियत का है असर।
❤️
यह हमारा मुल्क जो गुलशन बना हर फूल से।
सगीर इस पर जान कुर्बां,शहरियत का है असर।

Language: Hindi
2 Comments · 176 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
पहले मैं इतना कमजोर था, कि ठीक से खड़ा भी नहीं हो पाता था।
पहले मैं इतना कमजोर था, कि ठीक से खड़ा भी नहीं हो पाता था।
SPK Sachin Lodhi
मुक्तक
मुक्तक
दुष्यन्त 'बाबा'
#नया_भारत 😊😊
#नया_भारत 😊😊
*Author प्रणय प्रभात*
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
पिताजी का आशीर्वाद है।
पिताजी का आशीर्वाद है।
Kuldeep mishra (KD)
जय जय हिन्दी
जय जय हिन्दी
gurudeenverma198
" तू "
Dr. Kishan tandon kranti
शब्द
शब्द
Madhavi Srivastava
मकर संक्रांति -
मकर संक्रांति -
Raju Gajbhiye
निगाहों में छुपा लेंगे तू चेहरा तो दिखा जाना ।
निगाहों में छुपा लेंगे तू चेहरा तो दिखा जाना ।
Phool gufran
इश्क़ में कोई
इश्क़ में कोई
लक्ष्मी सिंह
राह देखेंगे तेरी इख़्तिताम की हद तक,
राह देखेंगे तेरी इख़्तिताम की हद तक,
Neelam Sharma
सजि गेल अयोध्या धाम
सजि गेल अयोध्या धाम
मनोज कर्ण
*.....मै भी उड़ना चाहती.....*
*.....मै भी उड़ना चाहती.....*
Naushaba Suriya
बिना कोई परिश्रम के, न किस्मत रंग लाती है।
बिना कोई परिश्रम के, न किस्मत रंग लाती है।
सत्य कुमार प्रेमी
ये पैसा भी गजब है,
ये पैसा भी गजब है,
Umender kumar
ज़िंदगी  ने  अब  मुस्कुराना  छोड़  दिया  है
ज़िंदगी ने अब मुस्कुराना छोड़ दिया है
Bhupendra Rawat
कर्म कभी माफ नहीं करता
कर्म कभी माफ नहीं करता
नूरफातिमा खातून नूरी
हुनर है झुकने का जिसमें दरक नहीं पाता
हुनर है झुकने का जिसमें दरक नहीं पाता
Anis Shah
सुबह का खास महत्व
सुबह का खास महत्व
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
विश्वकप-2023
विश्वकप-2023
World Cup-2023 Top story (विश्वकप-2023, भारत)
कान्हा घनाक्षरी
कान्हा घनाक्षरी
Suryakant Dwivedi
दोहा
दोहा
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
3) मैं किताब हूँ
3) मैं किताब हूँ
पूनम झा 'प्रथमा'
अलबेला अब्र
अलबेला अब्र
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
CUPID-STRUCK !
CUPID-STRUCK !
Ahtesham Ahmad
पैसा  (कुंडलिया)*
पैसा (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
किसने कहा, ज़िन्दगी आंसुओं में हीं कट जायेगी।
किसने कहा, ज़िन्दगी आंसुओं में हीं कट जायेगी।
Manisha Manjari
तुम वादा करो, मैं निभाता हूँ।
तुम वादा करो, मैं निभाता हूँ।
अजहर अली (An Explorer of Life)
व्हाट्सएप युग का प्रेम
व्हाट्सएप युग का प्रेम
Shaily
Loading...