Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
31 Mar 2023 · 1 min read

खुदा के वास्ते

खुदा के वास्ते
सुकूने दिल के लिए
अब नजर आओ

277 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from shabina. Naaz
View all
You may also like:
When conversations occur through quiet eyes,
When conversations occur through quiet eyes,
पूर्वार्थ
गर समझते हो अपने स्वदेश को अपना घर
गर समझते हो अपने स्वदेश को अपना घर
ओनिका सेतिया 'अनु '
Khata kar tu laakh magar.......
Khata kar tu laakh magar.......
HEBA
कवि को क्या लेना देना है !
कवि को क्या लेना देना है !
Ramswaroop Dinkar
रहब यदि  संग मे हमर ,सफल हम शीघ्र भ जायब !
रहब यदि संग मे हमर ,सफल हम शीघ्र भ जायब !
DrLakshman Jha Parimal
जरूरी नहीं की हर जख़्म खंजर ही दे
जरूरी नहीं की हर जख़्म खंजर ही दे
Gouri tiwari
याद में
याद में
sushil sarna
दोगलापन
दोगलापन
Mamta Singh Devaa
बेशक आजमा रही आज तू मुझको,मेरी तकदीर
बेशक आजमा रही आज तू मुझको,मेरी तकदीर
Vaishaligoel
अपनी हीं क़ैद में हूँ
अपनी हीं क़ैद में हूँ
Shweta Soni
डर के आगे जीत।
डर के आगे जीत।
Anil Mishra Prahari
मेघों का इंतजार है
मेघों का इंतजार है
VINOD CHAUHAN
बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ
बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ
Shekhar Chandra Mitra
तुलनात्मक अध्ययन एक अपराध-बोध
तुलनात्मक अध्ययन एक अपराध-बोध
Mahender Singh
*विश्व योग दिवस : 21 जून (मुक्तक)*
*विश्व योग दिवस : 21 जून (मुक्तक)*
Ravi Prakash
मैं अपने अधरों को मौन करूं
मैं अपने अधरों को मौन करूं
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
संघर्ष की आग से ही मेरी उत्पत्ति...
संघर्ष की आग से ही मेरी उत्पत्ति...
Ajit Kumar "Karn"
నీవే మా రైతువి...
నీవే మా రైతువి...
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
इंसान इंसानियत को निगल गया है
इंसान इंसानियत को निगल गया है
Bhupendra Rawat
सच
सच
Neeraj Agarwal
Love night
Love night
Bidyadhar Mantry
वक़्त की फ़ितरत को
वक़्त की फ़ितरत को
Dr fauzia Naseem shad
एक दिन की बात बड़ी
एक दिन की बात बड़ी
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
वो तेरी पहली नज़र
वो तेरी पहली नज़र
Yash Tanha Shayar Hu
* मुस्कुराना *
* मुस्कुराना *
surenderpal vaidya
आरजू ओ का कारवां गुजरा।
आरजू ओ का कारवां गुजरा।
Sahil Ahmad
3242.*पूर्णिका*
3242.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
"आवारा-मिजाजी"
Dr. Kishan tandon kranti
मेरी कलम से…
मेरी कलम से…
Anand Kumar
दिल पे पत्थर ना रखो
दिल पे पत्थर ना रखो
shabina. Naaz
Loading...