Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Apr 2024 · 1 min read

कोई भी

देती है सबक़ ऐसे कोई
फरामोश नहीं होता ,
ज़िंदगी से बड़ा कोई भी
उस्ताद नहीं होता ।
डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
Tag: शेर
4 Likes · 60 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr fauzia Naseem shad
View all
You may also like:
गुम है
गुम है
Punam Pande
बेटी-पिता का रिश्ता
बेटी-पिता का रिश्ता
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
रमेशराज की एक हज़ल
रमेशराज की एक हज़ल
कवि रमेशराज
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
चुप रहो
चुप रहो
Sûrëkhâ
"जीवन का आनन्द"
Dr. Kishan tandon kranti
सूर्यदेव
सूर्यदेव
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
सर्द रातें
सर्द रातें
Sandhya Chaturvedi(काव्यसंध्या)
कुछ लोग बहुत पास थे,अच्छे नहीं लगे,,
कुछ लोग बहुत पास थे,अच्छे नहीं लगे,,
Shweta Soni
दोहा निवेदन
दोहा निवेदन
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
भले दिनों की बात
भले दिनों की बात
Sahil Ahmad
जय श्री गणेशा
जय श्री गणेशा
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
🌷🙏जय श्री राधे कृष्णा🙏🌷
🌷🙏जय श्री राधे कृष्णा🙏🌷
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
मेरी  हर इक शाम उम्मीदों में गुजर जाती है।। की आएंगे किस रोज
मेरी हर इक शाम उम्मीदों में गुजर जाती है।। की आएंगे किस रोज
★ IPS KAMAL THAKUR ★
दिल से दिल गर नहीं मिलाया होली में।
दिल से दिल गर नहीं मिलाया होली में।
सत्य कुमार प्रेमी
मानस हंस छंद
मानस हंस छंद
Subhash Singhai
बदल गए तुम
बदल गए तुम
Kumar Anu Ojha
हिंदी भाषा हमारी आन बान शान...
हिंदी भाषा हमारी आन बान शान...
Harminder Kaur
पेड़ लगाओ पर्यावरण बचाओ
पेड़ लगाओ पर्यावरण बचाओ
Buddha Prakash
तेरी चौखट पर, आये हैं हम ओ रामापीर
तेरी चौखट पर, आये हैं हम ओ रामापीर
gurudeenverma198
कुछ काम करो , कुछ काम करो
कुछ काम करो , कुछ काम करो
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
3227.*पूर्णिका*
3227.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
मेघ, वर्षा और हरियाली
मेघ, वर्षा और हरियाली
Ritu Asooja
2. काश कभी ऐसा हो पाता
2. काश कभी ऐसा हो पाता
Rajeev Dutta
*तुम और  मै धूप - छाँव  जैसे*
*तुम और मै धूप - छाँव जैसे*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
जीवन में कभी भी संत रूप में आए व्यक्ति का अनादर मत करें, क्य
जीवन में कभी भी संत रूप में आए व्यक्ति का अनादर मत करें, क्य
Sanjay ' शून्य'
आप, मैं और एक कप चाय।
आप, मैं और एक कप चाय।
Urmil Suman(श्री)
#दिवस_विशेष-
#दिवस_विशेष-
*Author प्रणय प्रभात*
मैं पीपल का पेड़
मैं पीपल का पेड़
VINOD CHAUHAN
*अमूल्य निधि का मूल्य (हास्य व्यंग्य)*
*अमूल्य निधि का मूल्य (हास्य व्यंग्य)*
Ravi Prakash
Loading...