Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 Nov 2023 · 1 min read

कुछ हकीकत कुछ फसाना और कुछ दुश्वारियां।

कुछ हकीकत कुछ फसाना और कुछ दुश्वारियां।
कुछ सुनहले ख्वाब सी है जिंदगी।।

1 Like · 203 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
STABILITY
STABILITY
SURYA PRAKASH SHARMA
*वृद्ध-जनों की सॉंसों से, सुरभित घर मंगल-धाम हैं (गीत)*
*वृद्ध-जनों की सॉंसों से, सुरभित घर मंगल-धाम हैं (गीत)*
Ravi Prakash
आसान नही सिर्फ सुनके किसी का किरदार आंकना
आसान नही सिर्फ सुनके किसी का किरदार आंकना
Kumar lalit
चलो मनाएं नया साल... मगर किसलिए?
चलो मनाएं नया साल... मगर किसलिए?
Rachana
जिंदगी
जिंदगी
Neeraj Agarwal
हिचकी
हिचकी
Bodhisatva kastooriya
मैं कहना भी चाहूं उनसे तो कह नहीं सकता
मैं कहना भी चाहूं उनसे तो कह नहीं सकता
Mr.Aksharjeet
ग़म बांटने गए थे उनसे दिल के,
ग़म बांटने गए थे उनसे दिल के,
ओसमणी साहू 'ओश'
मेहनत का फल
मेहनत का फल
Pushpraj Anant
बिल्ले राम
बिल्ले राम
Kanchan Khanna
पैसा
पैसा
Sanjay ' शून्य'
देश के दुश्मन कहीं भी, साफ़ खुलते ही नहीं हैं
देश के दुश्मन कहीं भी, साफ़ खुलते ही नहीं हैं
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
दुकान मे बैठने का मज़ा
दुकान मे बैठने का मज़ा
Vansh Agarwal
गलतियां ही सिखाती हैं
गलतियां ही सिखाती हैं
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
तुम्हें लिखना आसान है
तुम्हें लिखना आसान है
Manoj Mahato
#मेरा_जीवन-
#मेरा_जीवन-
*प्रणय प्रभात*
"बहुत दिनों से"
Dr. Kishan tandon kranti
पशुओं के दूध का मनुष्य द्वारा उपयोग अत्याचार है
पशुओं के दूध का मनुष्य द्वारा उपयोग अत्याचार है
Dr MusafiR BaithA
वक़्त का समय
वक़्त का समय
भरत कुमार सोलंकी
मिट्टी के परिधान सब,
मिट्टी के परिधान सब,
sushil sarna
सबसे ऊंचा हिन्द देश का
सबसे ऊंचा हिन्द देश का
surenderpal vaidya
23/37.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/37.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
छंद मुक्त कविता : जी करता है
छंद मुक्त कविता : जी करता है
Sushila joshi
अब कुछ बचा नहीं बिकने को बाजार में
अब कुछ बचा नहीं बिकने को बाजार में
Ashish shukla
Prastya...💐
Prastya...💐
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
बेदर्द ...................................
बेदर्द ...................................
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
युद्ध घोष
युद्ध घोष
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
मदर्स डे
मदर्स डे
Dr. Pradeep Kumar Sharma
*जिंदगी*
*जिंदगी*
नेताम आर सी
जिंदगी
जिंदगी
Dr.Priya Soni Khare
Loading...