Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
30 Jul 2016 · 1 min read

किसी का टूट जाये दिल कभी वो बात मत कहिये

किसी का टूट जाये दिल कभी वो बात मत कहिये
मुहब्बत पाक बंधन है इसे ख़ैरात मत कहिये

सुबह से शाम तक इक आपकी ही फ़िक्र रहती है
मुहब्बत को हमारी यूँ सियासीयात मत कहिये

वफ़ादारी निभाता है कहाँ कोई ज़माने में
बिना जाँचे बिना परखे कभी जज़्बात मत कहिये

जुदाई ज़ख्म आँसू और जीवनभर की तन्हाई
मुहब्बत में हमें क्या-क्या मिली सौगात मत कहिये

निखरता है बशर मुश्किल पलों में ही सदा ‘माही’
कभी भी ज़िंदगानी में बुरे हालात मत कहिये

माही

313 Views
You may also like:
सागर बोला, सुन ज़रा
सूर्यकांत द्विवेदी
कतिपय दोहे...
डॉ.सीमा अग्रवाल
जीते हैं आज भी हम
Dr fauzia Naseem shad
लोकमाता अहिल्याबाई होलकर
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
रूबरू होकर जमाने से .....
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
मत्तगयंद सवैया छंद
संजीव शुक्ल 'सचिन'
बदल गया मेरा मासूम दिल
Anamika Singh
आख़िरी ग़ुलाम
Shekhar Chandra Mitra
पिता
Neha Sharma
शबनम।
Taj Mohammad
फौजी
Dr Meenu Poonia
रोना
Dr.S.P. Gautam
बदला नहीं लेना किसीसे, बदल के हमको दिखाना है।
Uday kumar
हवस
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
प्रेम की राह पर -8
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
धार्मिक उन्माद
Rakesh Pathak Kathara
मुहब्बत और इबादत
shabina. Naaz
|| संत नरसी (नरसिंह) मेहता || 🌷
Pravesh Shinde
जीवन
सत्यम प्रकाश 'ऋतुपर्ण'
पिता का प्रेम
Seema gupta ( bloger) Gupta
*जो उत्तम स्वास्थ्य धारी है 【 मुक्तक 】*
Ravi Prakash
वार्तालाप….
Piyush Goel
मौत
Alok Saxena
है पर्याप्त पिता का होना
अश्विनी कुमार
मैं सोता रहा......
Avinash Tripathi
जीवन चक्र
AMRESH KUMAR VERMA
रावण का तुम अंश मिटा दो,
कृष्णकांत गुर्जर
कृष्ण चतुर्थी भाद्रपद, है गणेशावतार
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
✍️जुस्तजू आसमाँ की..✍️
'अशांत' शेखर
हाइकु_रिश्ते
Manu Vashistha
Loading...