Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Nov 2023 · 1 min read

कितने एहसास हैं

नुकसान ही होते हैं कब नफ़ा नफ़ा होते हैं।
कितने वादे हैं जो वफ़ा होते हैं ।।
एक तेरे एहसास की ख़ातिर शाद ।
कितने एहसास हैं जो ख़फ़ा होते हैं ।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
Tag: शेर
4 Likes · 89 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr fauzia Naseem shad
View all
You may also like:
Ramal musaddas saalim
Ramal musaddas saalim
sushil yadav
होली के मजे अब कुछ खास नही
होली के मजे अब कुछ खास नही
Rituraj shivem verma
*मनु-शतरूपा ने वर पाया (चौपाइयॉं)*
*मनु-शतरूपा ने वर पाया (चौपाइयॉं)*
Ravi Prakash
"उम्मीदों की जुबानी"
Dr. Kishan tandon kranti
ए कुदरत के बंदे ,तू जितना तन को सुंदर रखे।
ए कुदरत के बंदे ,तू जितना तन को सुंदर रखे।
Shutisha Rajput
दिल का मौसम सादा है
दिल का मौसम सादा है
Shweta Soni
नादान पक्षी
नादान पक्षी
Neeraj Agarwal
आपकी सोच
आपकी सोच
Dr fauzia Naseem shad
21 उम्र ढ़ल गई
21 उम्र ढ़ल गई
Dr Shweta sood
*श्रीराम और चंडी माँ की कथा*
*श्रीराम और चंडी माँ की कथा*
Kr. Praval Pratap Singh Rana
उतर चुके जब दृष्टि से,
उतर चुके जब दृष्टि से,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
🌸 मन संभल जाएगा 🌸
🌸 मन संभल जाएगा 🌸
पूर्वार्थ
संसद उद्घाटन
संसद उद्घाटन
Sanjay ' शून्य'
चेहरे पे लगा उनके अभी..
चेहरे पे लगा उनके अभी..
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
प्रिय
प्रिय
The_dk_poetry
हिन्दी दोहा- मीन-मेख
हिन्दी दोहा- मीन-मेख
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
बहुत मुश्किल होता हैं, प्रिमिकासे हम एक दोस्त बनकर राहते हैं
बहुत मुश्किल होता हैं, प्रिमिकासे हम एक दोस्त बनकर राहते हैं
Sampada
सबसे क़ीमती क्या है....
सबसे क़ीमती क्या है....
Vivek Mishra
बिन बोले सुन पाता कौन?
बिन बोले सुन पाता कौन?
AJAY AMITABH SUMAN
कहू किया आइ रूसल छी ,  कोनो कि बात भ गेल की ?
कहू किया आइ रूसल छी , कोनो कि बात भ गेल की ?
DrLakshman Jha Parimal
सारे ही चेहरे कातिल है।
सारे ही चेहरे कातिल है।
Taj Mohammad
गजल
गजल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
कौन?
कौन?
निरंजन कुमार तिलक 'अंकुर'
चिरैया पूछेंगी एक दिन
चिरैया पूछेंगी एक दिन
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
शुभ रात्रि मित्रों.. ग़ज़ल के तीन शेर
शुभ रात्रि मित्रों.. ग़ज़ल के तीन शेर
आर.एस. 'प्रीतम'
हर एक नागरिक को अपना, सर्वश्रेष्ठ देना होगा
हर एक नागरिक को अपना, सर्वश्रेष्ठ देना होगा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
चाय सी महक आती है तेरी खट्टी मीठी बातों से,
चाय सी महक आती है तेरी खट्टी मीठी बातों से,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
अनजान रिश्ते...
अनजान रिश्ते...
Harminder Kaur
#विजय_के_23_साल
#विजय_के_23_साल
*प्रणय प्रभात*
सुख दुःख मनुष्य का मानस पुत्र।
सुख दुःख मनुष्य का मानस पुत्र।
लक्ष्मी सिंह
Loading...