Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 Sep 2022 · 1 min read

कस्तूरी मृग

कस्तूरी मृग

वन सुशोभित हो रहा
कस्तूरी की सुगंध से
स्वयं बावला हो रहा
कस्तूरी मृग भी इस गंध से

सब माया का फेर है
अनजान अपने ही अंग से
नाभि बीच कस्तूरी बसे
वह ढूँढता वन में उमंग से

भूख प्यास सब भूल गया
मृगतृष्णा सी इस जंग से
वन वन मारा फिर रहा
जो बहती उसके अंग से

थक हार कर गिर पड़ा
पर दूर नहीं था सुगंध से
हवा ने साँसों में ताजगी भरी
फुर्ती दिखी फिर अंग अंग से

जगत बैरी बना बैठा था
नादान दुनियावी रंग से
घात लगा मारा गया
बेचारा कस्तूरी के प्रसंग से

– आशीष कुमार
मोहनिया, कैमूर, बिहार

1 Like · 758 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
♥️♥️दौर ए उल्फत ♥️♥️
♥️♥️दौर ए उल्फत ♥️♥️
umesh mehra
🌺आलस्य🌺
🌺आलस्य🌺
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
ज़िम्मेदार कौन है??
ज़िम्मेदार कौन है??
Sonam Puneet Dubey
चाय ही पी लेते हैं
चाय ही पी लेते हैं
Ghanshyam Poddar
*रात से दोस्ती* ( 9 of 25)
*रात से दोस्ती* ( 9 of 25)
Kshma Urmila
ख़ामोश सा शहर
ख़ामोश सा शहर
हिमांशु Kulshrestha
प्रतिध्वनि
प्रतिध्वनि
पूर्वार्थ
दोहा -
दोहा -
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
लिव-इन रिलेशनशिप
लिव-इन रिलेशनशिप
लक्ष्मी सिंह
उसकी सूरत में उलझे हैं नैना मेरे।
उसकी सूरत में उलझे हैं नैना मेरे।
Madhuri mahakash
असली खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है।
असली खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है।
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
समर्पित बनें, शरणार्थी नहीं।
समर्पित बनें, शरणार्थी नहीं।
Sanjay ' शून्य'
अनवरत ये बेचैनी
अनवरत ये बेचैनी
Shweta Soni
दुःख बांटू तो लोग हँसते हैं ,
दुःख बांटू तो लोग हँसते हैं ,
Uttirna Dhar
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
3665.💐 *पूर्णिका* 💐
3665.💐 *पूर्णिका* 💐
Dr.Khedu Bharti
दोस्ती
दोस्ती
Monika Verma
श्री राम अमृतधुन भजन
श्री राम अमृतधुन भजन
Khaimsingh Saini
रिमझिम बारिश
रिमझिम बारिश
अनिल "आदर्श"
खुद को तलाशना और तराशना
खुद को तलाशना और तराशना
Manoj Mahato
तेरे दिदार
तेरे दिदार
SHAMA PARVEEN
अपनी अपनी सोच
अपनी अपनी सोच
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
*** बिंदु और परिधि....!!! ***
*** बिंदु और परिधि....!!! ***
VEDANTA PATEL
मेरे जीतने के बाद बहुत आएंगे
मेरे जीतने के बाद बहुत आएंगे
Ankita Patel
😢बड़ा सवाल😢
😢बड़ा सवाल😢
*प्रणय प्रभात*
शादी के बाद में गये पंचांग दिखाने।
शादी के बाद में गये पंचांग दिखाने।
Sachin Mishra
"तोहफा"
Dr. Kishan tandon kranti
रक्षाबंधन
रक्षाबंधन
Dr Archana Gupta
दोहा
दोहा
Ravi Prakash
ठीक है
ठीक है
Neeraj Agarwal
Loading...